राजस्थान में शीतलहर का कहर, पारा शून्य के आसपास पहुंचा

राजस्थान के कई हिस्सों में शीतलहर का कहर जारी है। कोटा संभाग में हुई बारिश के कारण वहां के तापमान में काफी गिरावट दर्ज की गई है। जिसके कारण पश्चिमी राजस्थान में पारा शून्य के आसपास बना हुआ है।

इन क्षेत्रों में गिरा तापमान

  • करौली में न्यूतनतम तापमान 2.9 डिग्री सेल्सियस
  • धौलपुर में तीन डिग्री सेल्सियस
  • पिलानी 2.2 डिग्री सेल्सियस
  • हनुमानगढ़ तीन डिग्री सेल्सियस
  • अलवर में एक डिग्री सेल्सियस
  • गंगानगर 4.1 डिग्री सेल्सियस

सीकर रहा सबसे ठंडा

पश्चिमी राजस्थान के सीकर इस वर्ष का सबसे ठंडा स्थान प्रदेश में रहा। यहां पर न्यूनतम तापमान 2.5 डिग्री दर्ज किया गया।

अगले 2 दिन शुष्क रहेगा मौसम

मौसम विभाग ने कहा है कि राजस्थान में अगले 2 दिन मौसम शुष्क बना रहेगा। इस दौरान कोहरे का प्रकोप काफी बढ़ चुका है अतः प्रदेश के अलवर, बारां, भरतपुर, सवाई माधोपुर, हनुमानगढ़, गंगानगर, सीकर, चूरू में घने कोहरे की चेतावनी जारी कर दी गई है।

शीतलहर से बचाव के उपाय

  • गर्म कपड़े पहनें
  • पर्याप्त मात्रा में पानी पिएं
  • धूप में निकलने से बचें
  • धूम्रपान न करें
  • बुजुर्गों और बच्चों का विशेष ध्यान रखें

शीतलहर से होने वाली बीमारियां

  • जुकाम
  • खांसी
  • बुखार
  • गले में खराश
  • सर्दी
  • निमोनिया

शीतलहर से बचाव के लिए सरकार की ओर से किए जा रहे उपाय

  • सरकार ने शीतलहर से बचाव के लिए कंबल, रजाई और अन्य आवश्यक सामान का वितरण किया है।
  • सरकार ने शीतलहर से प्रभावित लोगों के लिए चिकित्सा शिविर लगाए हैं।
  • सरकार ने शीतलहर से प्रभावित लोगों के लिए राहत राशि भी जारी की है।

आम जनता से अपील

  • आम जनता से अपील है कि वे शीतलहर से बचाव के लिए आवश्यक सावधानी बरतें।
  • यदि आप शीतलहर के लक्षणों से पीड़ित हैं तो तुरंत किसी डॉक्टर से संपर्क करें।

Recent Posts