देश के अधिकांश हिस्सों में बदलते तापमान ने लोगों की दिनचर्या में बदलाव ला दिया है। पहाड़ी हिस्सों में बर्फबारी और ताजगी से भरी हवा ने जीवन को ठंडक से भर दिया है, लेकिन इसके साथ ही दिल्ली और आसपास के क्षेत्रों में कोहरे का दौर आगमन कर रहा है, जिससे हर कोई थोड़ी चिंतित है।

शहर में कोहरा और सड़कों पर बढ़ती रेंगती रफ्तार

राजधानी दिल्ली सहित दिल्ली एनसीआर के तमाम इलाकों में सुबह से ही घना कोहरा छाया हुआ है, जिससे यातायात में बढ़ती असुविधा हो रही है। सड़कों पर वाहनों की रफ्तार भी रेंगती दिख रही है, जिससे लोगों को जल्दी से अपने स्थान तक पहुंचने में मुश्किल हो रही है।

कड़ाके की सर्दी से राहत के लिए उम्मीदें

आईएमडी के मुताबिक, पूर्व उत्तर प्रदेश में 3 से 5 जनवरी तक गरज चमक के साथ बूंदाबांदी होने की संभावना जताई गई है। इसके साथ ही, 31 नवंबर 2023 तक मिली जानकारी के मुताबिक, 20 स्थानों पर पारा 15 डिग्री सेल्सियस के नीचे दर्ज किया गया है। इन हिस्सों में बारिश होने की उम्मीद जताई जा रही है, जो लोगों को कड़ाके की सर्दी से राहत दिला सकती है।

आम लोगों के मन में ख़बरें और सवाल

क्या इन इलाकों में बारिश होने से ठंडक महसूस होगी?
कौन-कौन सी जगहें हैं जहां बारिश की संभावना है?
क्या यह मौसम दिनचर्या में बदलाव ला सकता है?

समाप्ति

आईएमडी के अनुसार, आगामी कुछ दिनों में इन इलाकों में सर्दी का दौर जारी रह सकता है, जिससे लोगों को ठंडक महसूस होगी और उन्हें राहत मिलेगी। इस बदलते मौसम में सुरक्षित रहने के लिए लोगों से अपील की जा रही है कि वे आवश्यक सुरक्षा कदमों को अपनाएं और ठंडक की ठोंक में सुरक्षित रहें।

Recent Posts