क्या आप एक ऐसी बचत योजना की तलाश में हैं जो आपको गारंटीड मासिक आय प्रदान करे? अगर ऐसा है, तो पोस्ट ऑफिस मासिक आय योजना (POMIS) एक बेहतरीन विकल्प हो सकता है। इस योजना में, आप एक बार निवेश करके हर महीने एक निश्चित राशि प्राप्त कर सकते हैं।

POMIS की विशेषताएं:

  • सिंगल और ज्वॉइंट अकाउंट: आप इस योजना में सिंगल या ज्वॉइंट अकाउंट खोल सकते हैं। सिंगल अकाउंट में आप 9 लाख रुपये तक जमा कर सकते हैं, जबकि ज्वॉइंट अकाउंट में आप 15 लाख रुपये तक जमा कर सकते हैं।
  • 5 साल की मेच्योरिटी: इस योजना की मेच्योरिटी अवधि 5 साल है। मेच्योरिटी के बाद, आप अपनी मूल राशि और अर्जित ब्याज प्राप्त कर सकते हैं।
  • हर महीने ब्याज भुगतान: इस योजना में, ब्याज का भुगतान हर महीने किया जाता है।
  • कम जोखिम: यह योजना एक सुरक्षित निवेश है क्योंकि यह सरकार द्वारा समर्थित है।

POMIS की मासिक आय:

इस योजना पर वर्तमान में 7.4% की वार्षिक ब्याज दर मिल रही है। यदि आप इस योजना में 5 लाख रुपये जमा करते हैं, तो आपको हर महीने 3,083 रुपये की मासिक आय मिलेगी।

POMIS में बदलाव:

आप इस योजना में कुछ बदलाव कर सकते हैं। आप अपने अकाउंट को सिंगल से ज्वॉइंट में या ज्वॉइंट से सिंगल में बदल सकते हैं। आप अपने अकाउंट की मेच्योरिटी अवधि भी बढ़ा सकते हैं।

POMIS की मेच्योरिटी पर निकासी:

इस योजना की मेच्योरिटी अवधि 5 साल है। मेच्योरिटी के बाद, आप अपनी मूल राशि और अर्जित ब्याज प्राप्त कर सकते हैं। हालांकि, यदि आप मेच्योरिटी के पहले पैसा निकालते हैं, तो आपको कुछ शुल्क देना होगा।

निष्कर्ष:

पोस्ट ऑफिस मासिक आय योजना (POMIS) एक सुरक्षित और गारंटीड मासिक आय प्रदान करने वाली एक बेहतरीन बचत योजना है। यदि आप अपनी बचत को सुरक्षित रूप से निवेश करना चाहते हैं और हर महीने एक निश्चित राशि प्राप्त करना चाहते हैं, तो यह योजना आपके लिए एक अच्छा विकल्प हो सकता है।

FAQs:

Q1. MIS खाता कैसे खोला जा सकता है?

A1. आप किसी भी पोस्ट ऑफिस में जाकर MIS खाता खोलने के लिए आवेदन कर सकते हैं। आवेदन के साथ, आपको अपना आधार कार्ड, पैन कार्ड, और बैंक खाते की पासबुक की प्रतिलिपि जमा करनी होगी।

Q2. पैसा कितने साल तक जमा किया जा सकता है?

A2. इस योजना की मेच्योरिटी अवधि 5 साल है। आप अपनी मूल राशि और अर्जित ब्याज को मेच्योरिटी के बाद प्राप्त कर सकते हैं।

Q3. क्या मेच्योरिटी के बाद पैसा निकाला जा सकता है?

A3. हां, मेच्योरिटी के बाद पैसा निकाला जा सकता है। हालांकि, यदि आप मेच्योरिटी के पहले पैसा निकालते हैं, तो आपको कुछ शुल्क देना होगा।

Q4. क्या MIS खाते में बदलाव किया जा सकता है?

A4. हां, MIS खाते में कुछ बदलाव किए जा सकते हैं। आप अपने अकाउंट को सिंगल से ज्वॉइंट में या ज्वॉइंट से सिंगल में बदल सकते हैं। आप अपने अकाउंट की मेच्योरिटी अवधि भी बढ़ा सकते हैं।

Q5. क्या MIS खाते में पैसा जोड़ा जा सकता है?

A5. हां, MIS खाते में पैसा जोड़ा जा सकता है। आप अपनी मूल राशि के 50% तक अतिरिक्त पैसा जमा कर सकते हैं।

Recent Posts