नई दिल्ली, 20 जनवरी 2024: भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (UIDAI) ने आधार नामांकन और अपडेशन के नियमों में बदलाव किया है। इस बदलाव के तहत अब आधार कार्ड के लिए नामांकन और इसे अपडेट करने के लिए नए फॉर्म जारी किए गए हैं।

नए नियमों से क्या होगा फायदा?

नए नियमों से आधार कार्ड के लिए नामांकन और अपडेशन की प्रक्रिया आसान और सुरक्षित होगी। नए फॉर्म में सभी आवश्यक जानकारी शामिल है, जिससे आवेदन प्रक्रिया में कोई भी गड़बड़ी नहीं होगी। इसके अलावा, नए नियमों से आधार कार्ड के उपयोग को और अधिक सुगम बनाया जाएगा।

नए नियमों के तहत क्या होगा बदलाव?

नए नियमों के तहत, आधार कार्ड के लिए नामांकन और अपडेशन के लिए नए फॉर्म जारी किए गए हैं। ये फॉर्म निम्नलिखित हैं:

  • फॉर्म 1: 18 वर्ष और उससे अधिक आयु के निवासियों और अनिवासी व्यक्तियों (भारत में पते का प्रमाण रखने वाले) के लिए नामांकन के लिए
  • फॉर्म 2: 18 वर्ष और उससे अधिक आयु के निवासियों और अनिवासी व्यक्तियों (भारत में पते का प्रमाण रखने वाले) के लिए अपडेशन के लिए
  • फॉर्म 3: 5 वर्ष और उससे अधिक लेकिन 18 वर्ष से कम उम्र के बच्चों (निवासी या भारतीय पते वाले NRI) के नामांकन के लिए
  • फॉर्म 4: भारत से बाहर के पते वाले NRI बच्चों के नामांकन के लिए
  • फॉर्म 5: 5 वर्ष से कम आयु के निवासी के आधार में नामांकन या अपडेशन के लिए
  • फॉर्म 6: आधार विवरण के लिए नामांकन या अपडेशन करने के लिए
  • फॉर्म 9: 18 वर्ष की आयु प्राप्त करने पर आधार संख्या को रद्द करने के लिए

नए फॉर्म में क्या क्या बदलाव किए गए हैं?

नए फॉर्म में निम्नलिखित बदलाव किए गए हैं:

  • फॉर्म में सभी आवश्यक जानकारी शामिल है। इससे आवेदन प्रक्रिया में कोई भी गड़बड़ी नहीं होगी।
  • फॉर्म में सुरक्षात्मक उपाय शामिल किए गए हैं। इससे आधार कार्ड की सुरक्षा सुनिश्चित होगी।
  • फॉर्म को अधिक सुगम बनाया गया है। इससे आवेदन प्रक्रिया को आसान बनाया गया है।

नए नियमों का लाभ उठाने के लिए जल्द ही आवेदन करें!

नए फॉर्म में सभी आवश्यक जानकारी शामिल है। इससे आवेदन प्रक्रिया में कोई भी गड़बड़ी नहीं होगी। उदाहरण के लिए, फॉर्म 1 में नाम, पता, जन्मतिथि, लिंग, फोटो, हस्ताक्षर, बायोमेट्रिक डेटा (आँखों की रेटिना स्कैन और बायोमेट्रिक फिंगरप्रिंट) जैसी सभी आवश्यक जानकारी शामिल है। इससे आवेदनकर्ता को किसी भी अतिरिक्त दस्तावेज को जमा करने की आवश्यकता नहीं होगी।

फॉर्म में सुरक्षात्मक उपाय शामिल किए गए हैं। इससे आधार कार्ड की सुरक्षा सुनिश्चित होगी। उदाहरण के लिए, फॉर्म 1 में एक ओटीपी (वन-टाइम पासवर्ड) प्रणाली शामिल है। यह सुनिश्चित करता है कि केवल वही व्यक्ति आधार कार्ड के लिए आवेदन कर सकता है जिसके पास मोबाइल फोन नंबर है।

फॉर्म को अधिक सुगम बनाया गया है। इससे आवेदन प्रक्रिया को आसान बनाया गया है। उदाहरण के लिए, फॉर्म में सरल भाषा और स्पष्ट निर्देश शामिल हैं। इससे आवेदनकर्ता को फॉर्म को भरने में कोई परेशानी नहीं होगी।

नए नियमों से आधार कार्ड को और अधिक उपयोगी और विश्वसनीय बनाया जाएगा। नए नियमों से आधार कार्ड का उपयोग विभिन्न सरकारी और गैर-सरकारी सेवाओं के लिए किया जा सकेगा। इससे लोगों की सुविधा बढ़ेगी और सरकारी योजनाओं का लाभ अधिक लोगों तक पहुंच पाएगा।

नए नियमों का लाभ उठाने के लिए सभी लोगों को जल्द से जल्द आधार कार्ड बनवाने या अपडेट करने की सलाह दी जाती है।

Recent Posts