आप जानते ही होंगे की हमारे देश के अधिकतर किसान आर्थिक रूप से कमजोर हैं। अतः उनकी इस समस्या को दूर करने के लिए केंद्र तथा राज्य सरकारें कई प्रकार की स्कीमें चला रहीं हैं। एक आयु तक की किसान लोग खेती या मजदूरी करके अपना जीवन यापन करते हैं। लेकिन उसके बाद में उनके जीवन में आर्थिक संकट खड़ा हो जाता है। इसी समस्या को दूर करने के लिए सरकार ने “पीएम किसान मानधन स्कीम’ को चलाया है। इससे किसानों को कैसे और किस प्रकार से लाभ मिलेगा आज हम आपको इसी के बारे में बता रहें हैं।

पीएम किसान मानधन स्कीम में करें निवेश

आपको बता दें कि इस स्कीम के लिए आपकी आयु 18 से 40 वर्ष के बीच है। आपको इस स्कीम में समय रहते कुछ पैसा निवेश करना होता है। इस स्कीम में आपको अपनी आयु के हिसाब से 55 रुपये से 200 रुपये प्रति माह का निवेश करना होता है। आप यदि 18 वर्ष में इस स्कीम की शुरुआत करते हैं तो आपको मात्र 55 रुपये का निवेश प्रति माह करना आवश्यक होता है। जब आपकी आयु 60 वर्ष की हो जाती है तो आपको सरकार की और से 3 हजार रुपये प्रति माह की पेंशन प्रदान की जाती है।

मिलेंगे ये लाभ

आपको बता दें कियदि लाभार्थी किसान की मौत हो जाती है तो उसकी पत्नी को 50 फीसदी लाभ प्रति माह मिलता रहता है। इस प्रकार से मृतक किसान की पत्नी को प्रति माह 1500 रुपये मिलते रहते हैं। आपको बता दें कि पीएम किसान मानधन स्कीम का लाभ सिर्फ वे किसान ही उठा सकते हैं। जिनके पास में 2 हेक्टेयर या उससे कम जमीन है। देशभर में काफी किसान इस योजना से जुड़े हैं और इसमें निवेश कर अपने भविष्य को सुरक्षित बना रहें हैं।

Recent Posts