Ration Card – भारत का ऐसा नागरिक जो 18 साल का हो चुका है वह राशन कार्ड के लिए आवेदन कर सकता है। यह एक महत्वपूर्ण सरकारी दस्तावेज होता है। 18 साल से कम उम्र के बच्चों का नाम माता-पिता के राशन कार्ड में होता है। राशन कार्ड के जरिए सरकार सभी नागरिकों को मुफ्त राशन या फिर कम पैसे में राशन देती है। यह देश के सभी नागरिकों का महत्वपूर्ण पहचान पत्र होता है।

राशन कार्ड की मदद से गरीब नागरिकों को मुफ्त राशन मिल रहा है। इसके अलावा सरकार के विभिन्न दस्तावेजों को बनवाने के लिए एक आईडी प्रूफ के तौर पर भी इसका इस्तेमाल किया जाता है। हर आम आदमी के पास राशन कार्ड होना चाहिए। अगर आपने अब तक अपना राशन कार्ड नहीं बनवाया है तो यह समाचार आपके लिए महत्वपूर्ण है। आज के समय में ऑनलाइन राशन कार्ड बनवाना बहुत आसान है और इसकी पूरी प्रक्रिया नीचे बताई गई है।

Ration Card क्या होता है?

राशन कार्ड एक सरकारी दस्तावेज होता है जिस पर व्यक्ति का नाम पता लिखा होता है। यह बिल्कुल आधार कार्ड के जैसा होता है। राशन कार्ड के जरिए सरकार गरीब लोगों को मुफ्त राशन देती है। यह व्यक्ति के लिए पहचान पत्र का काम करता है, स्वयं का पहचान देने के लिए आप राशन कार्ड का इस्तेमाल देश में कहीं भी कर सकते हैं।

इस महत्वपूर्ण दस्तावेज का इस्तेमाल करके आप अपना आधार कार्ड वोटर आईडी जैसे कुछ दस्तावेज बनवा सकते है। अलग-अलग राज्य में राज्य सरकार द्वारा चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं का लाभ लेने के लिए भी राशन कार्ड की जरूरत होती है। आज से कुछ समय पहले राशन कार्ड बनवाने के लिए अलग-अलग कार्यालय का चक्कर काटना पड़ता था। लेकिन अब आप इसे आसानी से घर बैठे अपने मोबाइल या लैपटॉप से बनवा सकते हैं।

राशन कार्ड से होने वाले लाभ

जैसा कि हमने आपको बताया राशन कार्ड एक सरकारी दस्तावेज है जिससे आपको विभिन्न प्रकार के लाभ मिल सकते है। उन लाभों की जानकारी को नीचे सूचीबद्ध किया गया है – 

  • राशन कार्ड के जरिए गरीब लोगों को मुफ्त में आटा और चावल दिया जाता है।
  • मध्यमवर्गीय व्यक्ति या फिर apl कार्ड धारक को ₹2 और ₹1 में राशन की सुविधा दी जाती है।
  • इस कार्ड को दिखाने पर सरकार कम पैसे में किरासन का ईंधन तेल देती है।
  • राज्य सरकार की तरफ से संचालित विभिन्न योजनाओं का लाभ आप राशन कार्ड दिखा कर प्राप्त कर सकते है।

राशन कार्ड कौन बनवा सकता है?

राशन कार्ड देश के सभी नागरिकों के लिए आवश्यक होता है। मुख्य रूप से इस गरीब और मध्यम वर्गीय व्यक्ति के द्वारा बनवाया जाता है। इसलिए इसे बनवाने की प्रक्रिया बहुत ही सरल रखी गई है – 

  • राशन कार्ड बनवाने के लिए आपकी उम्र 18 वर्ष से अधिक होनी चाहिए।
  • आपके पास जन्म प्रमाण पत्र और निवास प्रमाण पत्र होना चाहिए।
  • इसके लिए आप ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं जिसकी पूरी प्रक्रिया नीचे बताई गई है।

राशन कार्ड कैसे बनवा सकते हैं

राशन कार्ड बनवाने के लिए ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरीके उपलब्ध हैं। ऑफलाइन राशन कार्ड बनवाने के लिए आप सीएससी सेंटर जा सकते हैं। इसके अलावा आपको जिला के खाद आपूर्ति विभाग में भी जा सकते हैं। ऑनलाइन राशन कार्ड बनवाने की प्रक्रिया नीचे बताई गई है।

  • सबसे पहले आपको अपने राज्य के खाद आपूर्ति विभाग के वेबसाइट पर जाना है। अलग-अलग राज्य के लिए अलग-अलग वेबसाइट होती है।
  • वेबसाइट पर आपको अप्लाई ऑनलाइन या एनएफएसए कभी कल मिलेगा जिस पर क्लिक करना है।
  • इसके बाद एक नया पेज खुलेगा जिसमें आपको सभी जानकारी को ध्यानपूर्वक भरना है।
  • अब आपको ऑनलाइन आवेदन फीस का भुगतान करना है और आपका राशन कार्ड कुछ दिनों में बन जाएगा।

कितना फीस और कब मिलेगा राशन कार्ड  

ऑनलाइन राशन कार्ड के लिए आवेदन करने के दौरान आपसे फीस मांगा जाएगा। अलग-अलग कैटेगरी के अनुसार ₹5 से ₹45 तक की फीस देनी करनी होती है। इसके बाद आपके द्वारा दी गई जानकारी की पुष्टि की जाएगी। आप अपने राशन कार्ड को उसी वेबसाइट से ट्रैक कर सकते हैं जिस वेबसाइट से आवेदन किया है।

आपका राशन कार्ड महीने भर के अंदर तैयार हो जाएगा जिसे आप ऑनलाइन डाउनलोड कर सकते हैं। अगर आपको किसी प्रकार की त्रुटि मिलती है तो उसे सही करने का विकल्प भी इस वेबसाइट पर मौजूद है इसके अलावा स्थानीय खाद आपूर्ति विभाग या सीएससी सेंटर में जाकर आप किसी भी प्रकार की त्रुटि को सही कर सकते हैं।

Recent Posts