ढांड, राजस्थान – श्रीकृष्ण गोशाला सेवा समिति ने नववर्ष के शुभ अवसर पर गोशाला में हवन का आयोजन किया। इस धारावाहिक में, गौशाला कमेटी के सदस्यों के साथ ही, मंडी आढ़तियों और आसपास के ग्रामीणों ने भी सक्रिय भाग लिया।

पंडित सतबीर शर्मा नौच की ओर से मंत्रोच्चारण किया गया

पंडित सतबीर शर्मा नौच ने मंत्रोच्चारण के बाद पूर्ण आहुति दी। इसके बाद, गोमाता की पूजा-अर्चना की गई और उन्हें फल, गुड़, और आटा खिलाया गया। पंडित ने गोमाता के महत्व पर चर्चा करते हुए बताया कि गाय की सेवा से ही सभी देवी-देवता प्रसन्न होते हैं और गाय हमारी माता है।

उत्कृष्टता में गोशाला के प्रधान का धन्यवाद

गोशाला के पूर्व प्रधान वेद प्रकाश शर्मा और भारत विकास परिषद शाखा ढांड ने गोशाला को चारे के लिए 11,000-11,000 रुपये का दान किया। इस मौके पर दान करने वाले लाला सीताराम ने अपने सज्जनों का आभार व्यक्त किया।

गोशाला में गोभक्तों के लिए उत्सव

हवन के बाद, गोभक्तों को प्रसाद वितरित किया गया और नववर्ष के अवसर पर गोभक्त गोशाला में गायों की सेवा में लगे रहे। इस अद्भुत उत्सव में लोग गुड़, आटा, और फल से गायों को खिलाते रहे।

सामान्य प्रश्न:

  1. गो माता की सेवा क्यों महत्वपूर्ण है?
    • गो माता की सेवा से सभी देवी-देवता प्रसन्न होते हैं और गाय हमारी माता है।
  2. नववर्ष के अवसर पर कौन-कौन से कार्यक्रम हुए?
    • नववर्ष के अवसर पर हवन, गोमाता की पूजा, और गोभक्तों के लिए उत्सवी कार्यक्रम हुए।
  3. गोशाला में कौन-कौन शामिल थे?
    • गोशाला में गोभक्त, गोशाला प्रधान, और स्थानीय प्रतिष्ठान के लोग शामिल थे

Recent Posts