भारत में क्रिकेट को एक धर्म के रूप में देखा जाता है। यहां क्रिकेट का दीवाना हर कोई होता है। क्रिकेट के मैचों के दौरान विभिन्न खिलाड़ी अलग-अलग विधाओं में अलग-अलग स्कोर बनाते हैं। इसी से उनकी रैंकिंग ऊपर जाती है। इसी क्रम में आज हम आपको ऐसे भारतीय क्रिकेटर्स के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्होंने 30 साल के बाद में सबसे ज्यादा शतक लगाए हैं।

सबसे ज्यादा शतक लगाने वाले भारतीय क्रिकेटर

  • सचिन तेंदुलकर

सचिन तेंदुलकर को क्रिकेट का भगवान कहा जाता है। उन्होंने अपने करियर में 100 शतक लगाए हैं। इनमें से 35 शतक उन्होंने 30 साल की उम्र के बाद लगाए हैं। यह एक रिकॉर्ड है जो शायद ही कोई तोड़ सके।

  • रोहित शर्मा

रोहित शर्मा वर्तमान में भारतीय टीम के कप्तान हैं। उन्होंने अपने करियर में 33 शतक लगाए हैं। इनमें से 33 शतक उन्होंने 30 साल की उम्र के बाद लगाए हैं। रोहित शर्मा इस मामले में दूसरे नंबर पर हैं।

  • राहुल द्रविड़

राहुल द्रविड़ को क्रिकेट का दीवार कहा जाता है। उन्होंने अपने करियर में 26 शतक लगाए हैं। इनमें से 26 शतक उन्होंने 30 साल की उम्र के बाद लगाए हैं। राहुल द्रविड़ इस मामले में तीसरे नंबर पर हैं।

  • विराट कोहली

विराट कोहली को दुनिया के सबसे बेहतरीन बल्लेबाजों में से एक माना जाता है। उन्होंने अपने करियर में 70 शतक लगाए हैं। इनमें से 18 शतक उन्होंने 30 साल की उम्र के बाद लगाए हैं। विराट कोहली इस मामले में चौथे नंबर पर हैं।

  • सुनील गावस्कर

सुनील गावस्कर को क्रिकेट के पहले सुपरस्टार कहा जाता है। उन्होंने अपने करियर में 34 शतक लगाए हैं। इनमें से 16 शतक उन्होंने 30 साल की उम्र के बाद लगाए हैं। सुनील गावस्कर इस मामले में पांचवें नंबर पर हैं।

30 साल के बाद शतक लगाने के लिए जरूरी हैं ये बातें

30 साल के बाद शतक लगाने के लिए एक बल्लेबाज को कई चीजों का ध्यान रखना होता है। इनमें से कुछ महत्वपूर्ण बातें इस प्रकार हैं:

  • फिटनेस: 30 साल के बाद बल्लेबाज को अपनी फिटनेस पर विशेष ध्यान देना चाहिए। इससे उसे लंबे समय तक मैदान पर बने रहने में मदद मिलेगी।
  • तैयारी: 30 साल के बाद बल्लेबाज को अपनी तैयारी पर विशेष ध्यान देना चाहिए। इसके लिए उसे नियमित रूप से अभ्यास करना चाहिए।
  • मानसिक दृढ़ता: 30 साल के बाद बल्लेबाज को मानसिक दृढ़ता भी रखनी चाहिए। इससे उसे मुश्किल परिस्थितियों में भी शांत रहकर खेलने में मदद मिलेगी।

30 साल के बाद शतक लगाना एक बड़ी उपलब्धि होती है। इससे पता चलता है कि बल्लेबाज अपने खेल में कितनी बारीकी से काम कर रहा है। भारतीय क्रिकेटर्स ने इस मामले में भी अपना परचम लहराया है।

Recent Posts