नई दिल्ली: टीम इंडिया के कप्तान रोहित शर्मा ने महत्वपूर्ण बैठक के बाद भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच हुए दूसरे टेस्ट मैच के बारे में प्रेस कॉन्फ्रेंस किया, जहां उन्होंने पिच की चर्चा की और खिलाड़ियों को चुनौतीपूर्ण स्थितियों के लिए तैयार रहने का संदेश दिया।

मैच रिजल्ट और गेंदबाजी
1. टेस्ट सीरीज का नतीजा: भारत और साउथ अफ्रीका के बीच खेले गए दूसरे टेस्ट मैच में 1-1 का बराबरी पर समाप्त होने पर रोहित ने बताया कि गेंदबाजों को मिली सहारा गायी मदद के बारे में उनकी राय।

2. रोहित शर्मा का बयान: रोहित ने दिखाए गए मैच के बड़े पॉइंट्स पर बातचीत करते हुए कहा कि वह ऐसी चुनौतीपूर्ण पिचों पर खेलने में परेशानी महसूस नहीं करते और खिलाड़ियों को भी इससे कोई अशुभ महसूस नहीं होना चाहिए।

विभिन्न तरह की पिचें और खिलाड़ियों की तैयारी:
3. चुनौतीपूर्ण स्थितियों का सामना करना: रोहित ने खेल की प्रकृति को महत्वपूर्ण बताया और खिलाड़ियों को विभिन्न पिचों पर चुनौतियों का सामना करने के लिए तैयार रहने की सलाह दी।

4. पिच पर आलोचकों को जवाब: रोहित ने आलोचकों को सिर्फ पिच के आधार पर खेलने के लिए आलोचना करने की बजाय, गेंदबाजों की शानदार प्रदर्शन की आलोचना करने का सुझाव दिया।

5. आईसीसी पिच रेटिंग का महत्वपूर्ण हवाला: रोहित ने आईसीसी पिच रेटिंग के द्वारा इंडिया में खेले जाने वाले मैचों के पिचों को उच्च गुणवत्ता में बनाए रखने की मांग की और निष्पक्ष जाँच की भी आवश्यकता है। रोहित शर्मा ने दिखाए गए प्रोफेशनलिज्म के साथ चुनौतीपूर्ण स्थितियों का सामना करने के लिए टीम को प्रेरित किया है और खिलाड़ियों को पिच की परिस्थितियों के बारे में अच्छी तरह से तैयार रहने की सलाह दी है।

Recent Posts