भारतीय स्टेट बैंक (SBI) ने हाल ही में एक महत्वपूर्ण घोषणा की है कि अब विदेश में रहने वाले भारतीय (NRI) अपने खाते को डिजिटल रूप से खोल सकते हैं। यह घोषणा एनआरआई समुदाय के लिए एक बड़ी राहत है, जो लंबे समय से इस सुविधा की मांग कर रहे थे।

मुख्य बिंदु:

SBI ने NRI के लिए दो प्रकार के बचत खाते खोलने की सुविधा शुरू की है:
NRE (Non-Resident External) खाता: यह खाता विदेश से आय को भारत में जमा करने के लिए है।
NRO (Non-Resident Ordinary) खाता: यह खाता भारत में प्राप्त आय और निवेश के लिए है।
दोनों खाते पूरी तरह से डिजिटल रूप से खोले जा सकते हैं।
खाता खोलने के लिए, NRI को SBI की वेबसाइट या YONO SBI ऐप पर एक आवेदन जमा करना होगा।
आवेदन में निम्नलिखित दस्तावेज अपलोड करने होंगे:
पासपोर्ट
विदेशी वीजा
विदेशी बैंक खाते का विवरण
आवेदन जमा करने के बाद, SBI ग्राहक के पते पर एक वेरिफिकेशन पत्र भेजेगा।
वेरिफिकेशन पत्र मिलने के बाद, खाता 2-3 कार्यदिवसों में सक्रिय हो जाएगा।
लाभ:

यह सुविधा NRI को भारत में खाता खोलने के लिए बैंक की शाखा में जाने की आवश्यकता को समाप्त करती है।
यह प्रक्रिया को आसान और तेज़ बनाती है।
यह NRI को भारत में अपने वित्तीय मामलों को प्रबंधित करने में मदद करती है।

SBI की यह घोषणा एक महत्वपूर्ण कदम है जो NRI समुदाय के लिए सुविधाजनक और लाभदायक होगा। यह सुविधा NRI को भारत में अपने वित्तीय मामलों को अधिक कुशलता से प्रबंधित करने में मदद करेगी।

Recent Posts