दिल्ली सर्राफा बाजार में अंतरराष्ट्रीय बाजारों में कमजोरी के रुख के बीच, गुरुवार को सोना 420 रुपये टूटकर 63,550 रुपये प्रति 10 ग्राम पर पहुंचा। पिछले कारोबारी सत्र में सोना 63,970 रुपये प्रति 10 ग्राम के भाव पर बंद हुआ था। इसी समय, चांदी की कीमत भी 1,900 रुपये की गिरावट के साथ 76,900 रुपये प्रति किलोग्राम पर बनी रही, जबकि पिछले कारोबारी सत्र में यह 78,800 रुपये प्रति किलोग्राम के भाव पर थी।

एचडीएफसी सिक्यूरिटीज के अनुसार

एचडीएफसी सिक्यूरिटीज के वरिष्ठ विश्लेषक सौमिल गांधी ने बताया, “विदेशी बाजारों में गिरावट के रुख के बीच दिल्ली सर्राफा बाजार में 24 कैरेट सोने की हाजिर कीमत में 420 रुपये की गिरावट हुई है और अब यह 63,550 रुपये प्रति 10 ग्राम है। वैश्विक बाजार में सोना और चांदी गिरावट के साथ क्रमश: 2,042 डॉलर प्रति औंस और 23.05 डॉलर प्रति औंस पर कारोबार हो रहा है।”

विशेषज्ञ की भविष्यवाणी

गांधी ने कहा कि अमेरिकी फेडरल रिजर्व की ब्याज दरों में कटौती की योजना के अनिश्चितता के कारण कारोबारियों के बीच जोखिम की धारणा बनी रहने से कॉमेक्स पर सोने की कीमतें दो सप्ताह के निचले स्तर पर आ गईं। फेडरल ओपन मार्केट कमेटी (एफओएमसी) की पिछले महीने हुई बैठक का ब्योरा जारी होने के बाद ब्याज दरों में कटौती की समयसीमा को लेकर अनिश्चितता बनी हुई है।

सामान्य प्रश्नों का समाधान (FAQs)

  1. क्यों हुई सोने और चांदी की कीमतों में गिरावट?
    • विशेषज्ञों के मुताबिक, अमेरिकी फेडरल रिजर्व की ब्याज दरों में कटौती की योजना ने इसमें गिरावट को प्रेरित किया है।
  2. कौन-कौन से बाजारों में हो रहा है यह प्रभाव?
    • दिल्ली सर्राफा बाजार में विदेशी बाजारों की गिरावट का सीधा प्रभाव दिखाई दे रहा है।
  3. क्या भविष्यवाणी की जा सकती है?
    • विशेषज्ञों के अनुसार, अमेरिकी बाजारों की स्थिति की विकास अनिश्चित है, जिससे सोने की कीमतों में और भी परिस्थितिकि आ सकती है।

इस प्रकार, दिल्ली सर्राफा बाजार में सोने और चांदी कीमतों में हुई गिरावट ने बाजार में चुनौती पैदा की है, जिसके पीछे अमेरिकी बाजारों में ब्याज दरों की कटौती का असर है। बाजारी चर्चा के अनुसार, निवेशकों को बाजार की चालबाजी पर नजर रखने की आवश्यकता है, क्योंकि आने वाले समय में इसमें और भी बदलाव हो सकता है

Recent Posts