हिंदी दिवस पर अपने साथियों को दे इस तरह बधाई

हिन्दी है हमारी राष्ट्रभाषा,
हिंदी है हमें बड़ी प्यारी,
हिन्दी की सुरीली,
हमें लगे है हर पल प्यारी।

एकता की जान है,
हिन्दी देश की शान है।

हर कण में बसी है हिन्दी,
मेरी माँ की बोली भी बसी है इसमें,
मेरा मान है हिंदी,
मेरी शान है हिन्दी।

Hindi diwas ke liye shayari

निज भाषा उन्नति अहै,
सब उन्नति को मूल,
बिन निज भाषा-ज्ञान के,
मिटत न हिय को सूल।

Hindi diwas par shayari hindi mai

 

Hindi diwas par shayari hindi mai

हाथ में तुम्हारे देश की शान,
हिन्दी अपनाकर तुम बनो महान।

Hindi diwas ke upar shayari

भारत माँ के भाल पर सजी स्वर्णिम बिंदी हूँ,
मैं भारत की बेटी आपकी अपनी हिंदी हूँ।

Hindi diwas par shayari 2020

हम सबकी यही अभिलाषा,
हिन्दी बने राष्ट्रभाषा।

Hindi diwas pe shayari

हिन्दी मेरा इमान है,
हिंदी मेरी पहचान है,
हिन्दी हूँ मैं वतन भी मेरा प्यारा हिंदुस्तान है।

Hindi diwas ke bare mein shayari

हिन्दी से हिन्दुस्तान है,
तभी तो यह देश महान है,
निज भाषा की उन्नति के लिए अपना सब कुछ कुर्बान है।

Hindi diwas par shero shayari

हिंदी भाषा नहीं भावों की अभिव्यक्ति है,
यह मातृभूमि पर मर मिटने की भक्ति है।

Hindi diwas par shayari image

जिसमें है मैंने ख्वाब बुने,
जिस से जुड़ी मेरी हर आशा,
जिससे मुझे पहचान मिली,
वो है मेरी हिंदी भाषा।

Hindi diwas par best shayari

आज स्याही से लिख दो तुम पहचान अपनी,
हिंदी हो तुम,
हिंदी से सीखो करना प्यार।

Shayari on hindi diwas

बिछड़ जाएंगे अपने हमसे,
अगर अंग्रेजी टिक जाएगी,
मिट जाएगा वजूद हमारा,
अगर हिंदी मिट जाएगी।

Shayari on hindi language

Shayari on hindi language

वक्ताओं की ताकत भाषा,
लेखक का अभिमान है भाषा,
भाषों के शीर्ष पर बैठी मेरी प्यारी हिंदी भाषा।

Hindi language par shayari

हिंदी है भारत के एकता और अखंडता की पहचान,
हिंदी ही तो है मेरे देश की शान और जान।

Hindi bhasha par shayari

मत करो हिंदी की चिंदी,
हिंदी तो है देश की बिंदी।

मातृ भाषा का जो करते है सम्मान,
वो पाते है हर जगह सम्मान।

हिंदी दिवस के अवसर पर आओ पढ़ें और पढ़ायें,
हिंदी है हमारी भाषा आओ इसे अपनाएं।

एक दिन ऐसा भी आएगा हिंदी परचम लहराएगा,
इस राष्ट्र भाषा का हर ज्ञाता भारतवासी कहलाएगा।

कोई भी राष्ट्र अपनी भाषा को छोड़कर राष्ट्र नहीं कहला सकता,
भाषा की रक्षा सीमाओं की रक्षा से भी जरूरी हैं।

अगर भारत का करना है उत्थान,
तो हिन्दी को अपनाना होगा,
अंग्रेजी को “विषय-मात्र”,
और हिंदी को “अनिवार्य” बनाना होगा।

निज भाषा का नहीं गर्व जिसे,
क्या प्यार देश से होगा उसे,
वही वीर देश का प्यारा है,
हिंदी ही जिसका नारा है।

चलो छोड़ दे दूजी भाषा,
हिंदी का अपमान है,
लिखे पढ़ाएं बोले गायें.
हिंदी अपनी शान है।

वक्ताओं की ताकत है हिंदी भाषा,
लेखक का अभिमान है हिंदी भाषा,
भाषाओं के शीर्ष पर बैठी,
मेरी प्यारी हिंदी भाषा।

हिंदी दिवस पर्व है,
इस पर हमें गर्व है,
सम्मानित हमारी राष्ट्रभाषा,
हम सबकी है यही अभिलाषा।

हम सब मिलकर दे सम्मान,
निज भाषा पर करें अभिमान,
हिंदुस्तान के माथे की बिंदी,
जन-जन की आत्मा बने हिंदी।

हिंदी दिवस पर हमने ठाना है,
लोगों में हिंदी का स्वाभिमान जगाना है,
हम सब का अभिमान है हिंदी,
भारत देश की शान है हिंदी।

Notifications    Ok No thanks