home page

हजारों साल पहले के सिक्कों का दिल्ली में चल रहा है उत्सव, सिक्के में छिपा है देश का इतिहास

नई दिल्ली, हजारों साल पहले के सिक्के अपनी एक अलग ही पहचान बनाए हुए है। इन सिक्कों को देखने के लिए लोग दूर-दूर से देखने के लिए आते है। यह सिक्के हमारी संस्कृति और सभ्यताओं को भी दर्शाते हैं। आपको बता दें कि इन सिक्कों को दिखाने के लिए उत्सव आयोजन किया जाता है। ऐसा
 | 
हजारों साल पहले के सिक्कों का दिल्ली में चल रहा है उत्सव, सिक्के में छिपा है देश का इतिहास
हजारों साल पहले के सिक्कों का दिल्ली में चल रहा है उत्सव, सिक्के में छिपा है देश का इतिहास

नई दिल्ली, हजारों साल पहले के सिक्के अपनी एक अलग ही पहचान बनाए हुए है। इन सिक्कों को देखने के लिए लोग दूर-दूर से देखने के लिए आते है। यह सिक्के हमारी संस्कृति और सभ्यताओं को भी दर्शाते हैं।

आपको बता दें कि इन सिक्कों को दिखाने के लिए उत्सव आयोजन किया जाता है। ऐसा ही एक आयोजन दिल्ली में चल रहा है। इस उत्सव में आपको कई तरह के सिक्के देखने को मिलेगा।

आपको इस उत्सव में हजारों साल पुराने सिक्के देखने को मिलेगा। यहां पर आपको प्राचीन काल के सिक्के भी देखने के मिलेंगे।

आपको बता दें कि यह उत्सव सोमवार तक मनाया जाएगा। इसमें आपको हजारों साल पुराने सिक्के देखने को मिलेंगे। जब अंग्रेज भारत में आए थे इससे पहले के भी सिक्के आपको देखने के मिलेगा।

आपको इस उत्सव में मुगल के जमाने के और आर्यों के जमाने के सिक्के भी देखने मिलेगें। 1947 के पहलेके सिक्के तो आपको यहां बहुत ज्यादा मिलेंगे।

आपको बता दें कि स उत्सव में आपको एक बहुत ही दुर्लभ सिक्का देखने को मिलेगा। जो शायद दुनिया में कहीं और नहीं है। बता दें कति यह दुनिया का सबसे दुर्लभ सिक्का है।

यह एक ऐसा सिक्का है जिसे आप शायद उठा भी ना पाएं। अगर आपने इस सिक्को को उठाने का सोचा तो आपको काफी मेहनत करनी पड़ेगी। बता दें कि इस सिक्के का वजन 10 किलो है।

यह सिक्का ऑस्ट्रेलिया का है। लोग दूर-दूर से इस सिक्के को देखन के लिए आ रहे है। जो भी इस दुर्लभ सिक्के के बारे मे सुनता वह बस एक बार इसका दीदार करना चाहता। अगर आप से बेचने के लिए दे तो भारतीय करेंसी के अनुसार इसकी कीमत 11 लाख रूपए है।

आपको बता दें कि इन सिक्कों का उत्सव इसलिए मनाया जा रहा है ताकि हमारे देश की युवा पीड़ी हमारी संस्क-ति और सभ्यता के बारे में जान सके।