उप्र भाजपा विधायक ने कंगना की सुरक्षा बढ़ाने की मांग की

उत्तर प्रदेश भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के विधायक नंद किशोर गुर्जर ने गृहमंत्री अमित शाह को पत्र लिखकर अभिनेत्री कंगना रनौत की सुरक्षा को ‘जेड’ प्लस श्रेणी में अपग्रेड करने का अनुरोध किया है। साथ ही उन्होंने मुंबई में अभिनेत्री के कार्यालय को ‘अवैध रूप से’ ढहाने के लिए महाराष्ट्र में नेतृत्व-गठबंधन सरकार शिवसेना को बर्खास्त करने की मांग की। गाजियाबाद के लोनी विधानसभा क्षेत्र के भाजपा विधायक ने अपने पत्र में आरोप लगाया कि कंगना रनौत के कार्यालय को बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) ने माफिया डॉन दाऊद इब्राहिम के निर्देश पर ध्वस्त कर दिया।

हालांकि, विधायक ने उनके आरोप की पुष्टि नहीं की।

उन्होंने अपने पत्र में गठबंधन सरकार को खारिज करने के अलावा महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री की गिरफ्तारी की भी मांग की है। उन्होंने कहा, “बीएमसी ने विभिन्न अवैध संपत्तियों को गिराने की जहमत नहीं उठाई है, लेकिन कंगना रनौत के खिलाफ कार्रवाई की है।”

विधायक ने अपने पत्र में कहा, “जब से मैंने वेब सीरीज की स्ट्रीमिंग के खिलाफ आवाज उठाई, तो मुझे भी पाकिस्तान और विभिन्न इस्लामिक देशों से धमकी भरे कॉल आए हैं। महाराष्ट्र सरकार की अंडरवल्र्ड के साथ सांठगांठ है, इसलिए मामले में एनआईए जांच के आदेश देने की आवश्यकता है।”

भाजपा विधायक के पत्र ने कंगना रनौत द्वारा मुंबई की तुलना पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर से करने के बाद इस मुद्दे पर बढ़ती राजनीतिक फूट को उजागर किया।

महा विकास आघाड़ी सरकार में गठबंधन के राजनीतिक दलों ने आरोप लगाया है कि कंगना को मुंबई पुलिस को बदनाम करने के लिए भाजपा प्यादे के रूप में इस्तेमाल कर रही है।

हिमाचल प्रदेश सरकार की सिफारिश के बाद कंगना को केंद्र की तरफ से वाई-प्लस श्रेणी सुरक्षा प्रदान की गई थी। अभिनेत्री मूल रूप से हिमालयी राज्य के मंडी की रहने वाली हैं। उन्होंने कहा था कि शिवसेना ने उन्हें मुंबई वापस न आने की धमकी दी थी।

बीएमसी ने एक पॉश इलाके पाली हिल में कंगना रनौत के कार्यालय को ध्वस्त कर दिया है।

Notifications    Ok No thanks