खाप पंचायत का तुगलकी फरमान: चाची-भतीजे के कपड़े उतरवाकर 400 लोगों के सामने नहलाया!

सीकर: राजस्थान के सीकर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। जिले में खाप पंचायत का एक ऐसा तुगलकी फरमान मेंं पंचायत ने चाची और भतीजे की एक साथ एक तस्वीर सामने आने के बाद ना केवल दोनों को सरे गांव निर्वस्त्र करके उनका शुद्दिकरण किया, बल्कि दोनों परिवार वालों पर भारी जुर्माना भी लगाया।

मीडिया रिपोर्ट केअनुसार, चौंकाने वाली बात तो यह थी कि जब यह तब हो रहा था जब वहां मौजूद 400 से भी ज्यादा लोग मौजूद थे और किसी ने भी महिलाओं की आबरू को बचाने के लिए आवाज नहीं उठाई। मामला सीकर जिले के नेछ्वा गांव पंचायत की सोला का है। इस खाप पंचायत में सीकर, चूरू, झुंझुनूं और बीकानेर से पंच इकट्ठा हुए थे।

युवक और युवती पर नहलाते समय पतला सफेद कपड़ा लपेटा गया था। इसके बाद उन्हें दूध और पानी से नहलाया गया। परिवार वाले भी मजबूर थे, क्योंकि खाप पंचायत के इस फरमान को नहीं मानने का सीधा सा मतलब था कि जात और समाज से बाहर कर हुक्का पानी बंद कर दिया जाता। आदेश की नाफ़रमानी करने वाले को इसके बाद किसी सामाजिक कार्यक्रम में नहीं बुलाया जाता। यदि कोई बुलाता तो बुलाने वाले के खिलाफ भी कार्रवाई की जाती। नतीजा इस अमानवीय फैसले को परिजनों के आलावा इन दोनों आरोपियों को भी मानना ही पड़ा।

करीब 11 दिन बाद जब पुलिस को इसकी भनक लगी तो शुरुाअती जांच में पता चला कि सांसी समाज से जुड़े और रिश्ते में चाची-भतीजा लगने वाले युवक-युवती का एक वीडियो वायरल हो गया था। वीडियो सामने आने पर खाप पंचायत के लोग इकट्ठे हुए और युवक-युवती को बिना कपड़ों के सभी के सामने नहलाने का फरमान सुनाया। सजा सुनाए जाते समय वहां करीब 400 लोग मौजूद थे, लेकिन किसी ने भी इसका विरोध नहीं किया। भीड़ में शामिल लोग दोनों के फोटो खींचने के साथ वीडियो भी बनाते रहे।

Notifications    Ok No thanks