नई दिल्लीः भारत और इंग्लैंड के बीच 4 टेस्ट मैचों की सीरीज का तीसरा मुकाबला आज से दुनिया के सबसे बड़े स्टेडियम मोटेरा में खेला जाएगा, जिसे लेकर क्रिकेट प्रशंसकों और खिलाड़ियों में काफी उत्साह दिखाई दे रहा है। यह मुकाबला काफी निर्णायक होने की उम्मीद है, क्योंकि दोनों टीमें हरहाल में जीत हासिल कर सीरीज में 2-1 से बढ़त बनाना चाहेंगी।

आज के मैच में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद इस स्टेडियम का उद्‌घाटन करेंगे। इस मौके पर केंद्रीय गृह मंत्री और गुजरात क्रिकेट एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष अमित शाह में स्टेडियम में मौजूद रहेंगे।तो हो जाएंगे बाहर
इस टेस्ट मैच में भारत की साख दांव पर लगी होगी, क्योंकि यहां मिली हार उसे वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप की रेस से बाहर कर देगी।

वहीं, इस अहम मुकाबले से पहले दोनों ही खेमों में सही टीम संयोजन बनाने पर जमकर माथापच्ची हो रही है। यहां की नई पिच और उस पर पिंक बॉल के बर्ताव के बारे में जानकारी ज्यादा नहीं होने के कारण अंतिम एकादश के बारे में फैसला करना थोड़ा मुश्किल काम हो गया है।

भारतीय टीम के लंबू ईशांत शर्मा का खेलना तय है। यह मुकाबला उनके करियर का 100वां टेस्ट होगा। टीम इंडिया यह मैच जीत जाती है, तो विराट कोहली भारत में सर्वाधिक (22) जीत दर्ज करने वाले कप्तान बन जाएंगे।

जानिए मोटेरा क्यों है खास

– 1.10 लाख है इस स्टेडियम की क्षमता।

– 50 प्रतिशत टिकट बेचने की ही इजाजत मिली कोविड नियमों की वजह से मोटेरा में इस बार।

– 8 सेमी. तक बारिश होने पर भी मैच रद्द नहीं होगा, क्योंकि 30 मिनट के अंदर मैदान से पानी को बाहर निकाल दिया जाएगा।

– 11 मल्टीपल पिच वाला यह दुनिया का पहला स्टेडियम, मेन ग्राउंड के अलावा दो प्रैक्टिस ग्राउंड भी हैं।

Recent Posts