नई दिल्लीः अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में इंग्लैंड और भारत के बीच सीरीज का तीसरा टेस्ट मैच खेला जा रहा है। मैच का पहला दिन इंग्लैंड का अच्छा नहीं रहा। इंग्लिश टीम महज 112 रनों पर ऑल आउट हो गई। भारत की ओर से बाएं हाथ के स्पिनर अक्षर पटेल ने अंग्रेजों पर मुसीबत बनकर टूटे। अक्षर पटेल ने शानदार गेंदबाजी करते हुए इंग्लैंड टीम के 6 खिलाड़ियों को पवेलियन की राह दिखाई। रविंद्र जडेजा की गैर-मौजदूगी में उनके ही राज्य, हालांकि अलग टीम, से आने वाले इस स्पिनर ने रविचंद्रन अश्विन का अच्छा साथ निभाया है।

अहमदाबाद अक्षर पटेल का घरेलू मैदान है। वह रणजी ट्रोफी में गुजरात की ओर से ही खेलते हैं और भले ही यह इस नए मैदान पर पहला टेस्ट हो अक्षर के लिए यह घर के आंगन की तरह रहा। उन्होंने गेंद पिच पर कम घुमाई लेकिन इंग्लिश बल्लेबाजों के दिमाग में ज्यादा घूम रही थी। इंग्लैंड के बल्लेबाजों में अप्रोच की कमी साफ नजर आई। पटेल आए और विकेट लेने का जो सिलसिला शुरू किया वह थमा नहीं। उन्होंने 38 रन देकर 6 विकेट लिए। अश्विन ने तीन विकेट लिए और इंग्लैंड की पूरी टीम 112 रन पर सिमट गई।

वहीं, भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली ने ईशांत शर्मा और जसप्रीत बुमराह के साथ गेंदबाजी आक्रमण की शुरुआत की। इन दोनों से तीन-तीन ओवर करवाने के बाद उन्होंने अक्षर पटेल को गेंदबाजी आक्रमण पर लगाया। उन्हें रविचंद्रन अश्विन से पहले गेंदबाजी की कमान सौंपी गई। पटेल ने अपनी पहली ही गेंद पर जॉनी बेयरस्टो को आउट किया।

बेयरस्टो गेंद खेलने आगे गए लेकिन गेंद उनके पैड से टकराई और अंपायर ने उन्हें आउट दिया। हालांकि इसके बाद उन्होंने रिव्यू लिया लेकिन तीसरे अंपायर ने भी मैदानी अंपायर के फैसले को सही ठहराया। इसके बाद उन्होंने जैक क्राउली का विकेट लिया। क्राउली ने हाफ सेंचुरी बनाई थी। वह इंग्लैंड के इकलौते बल्लेबाज रहे जिन्होंने भारतीय गेंदबाजों के सामने टिक सके।

वहीं, जोफ्रा आर्चर को बोल्ड कर अक्षर ने इस पारी में पांचवां विकेट हासिल किया। यह उनके टेस्ट करियर में दूसरा मौका है जब उन्होंने पारी में दूसरी बार पारी में पांच विकेट लिए हैं। चेन्नई टेस्ट की दूसरी पारी में भी उन्होंने पांच विकेट लिए। बेन फोक्स को आउट उन्होंने पारी में छठा विकेट हासिल किया।

Recent Posts