नई दिल्लीः अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में भारतीय से शर्मनाक हार के बाद इंग्लैंड को करारा झटका जरूर लगा है। इंग्लैंड अब 4 टेस्ट मैचों की सीरीज में भी 2-1 से पीछे हो गई है। इंग्लैंड टीम के कप्तान जो रूट हार के बाद काफी निराश दिखाई दिए। उन्होंने कहा कि जो दर्शक मैच देखने आए थे, उनके साथ धोखा हुआ और वे खुद को लुटा हुआ महसूस कर रहे होंगे।

तीसरे टेस्ट मैच की पहली पारी में 112 और दूसरी पारी में 81 रन ही बना पाई। भारत ने पहली पारी में 145 रन बनाए जिसके बाद मेजबानों ने 49 रन के टारगेट को 7.4 ओवर में हासिल कर लिया। रूट ने दो दिन में मैच खत्म होने को लेकर कहा, ‘यह शर्म की बात है क्योंकि यह एक शानदार स्टेडियम है और करीब 60 हजार लोग इस उम्मीद से आए थे कि एक बेहतरीन और यादगार मैच देखने को मिलेगा। मुझे लगता है कि उनके साथ धोखा हुआ।’

उन्होंने हालांकि कहा कि आईसीसी को टेस्ट क्रिकेट के लिए अनुकूल पिच को लेकर विचार करना चाहिए। रूट ने कहा, ‘मुझे लगता है कि यह पिच काफी चुनौतीपूर्ण था। यह बल्लेबाजी के लिए बेहद मुश्किल थी। इसका फैसला खिलाड़ी नहीं करेंगे कि यह खेल के लिए उपयुक्त थी या नहीं। यह आईसीसी का काम है।’

इंग्लैंड के पूर्व कप्तान एंड्रयू स्ट्रॉस ने कॉमेंट्री के दौरान इस पिच को ‘लॉटरी’ बताया था, लेकिन रूट ने माना कि उनकी टीम की तरफ से बल्लेबाजी बेहद खराब रही। भारतीय टीम ने तीसरा टेस्ट जीतकर सीरीज में 2-1 से बढ़त बना ली है। अब चौथा और अंतिम टेस्ट मैच अहमदाबाद में ही 4 मार्च से खेला जाएगा।

Recent Posts