नई दिल्लीः अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में भारत को 10 विकेट से हराकर सीरीज में 2-1 की अजेय बढ़त बना ली है। ऐसा पहली बार हुआ कि भारत ने अपनी सरजमीं पर इंग्लैंड को दूसरे ही दिन हरा दिया। भारत की ऐतिहासिक जीतक के बाद मोटेरा के नरेंद्र मोदी स्टेडियम की पिच को लेकर भी सवाल उठ रहे हैं।

सवाल उठाने वाले आलोचकों को भारतीय ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने करारा जवाब दिया है। रविचंद्रन अश्विन अश्विन ने कहा कि इस बहस को अब यहीं खत्म करना चाहिए। अच्छी पिच क्या होती है? बल्लेबाजों को उस पर रन बनाने चाहिए थे। यह बातें उन्होंने इंग्लिश पत्रकार के सवाल का जवाब देते हुए कही।

पत्रकारों से बातचीत में इंग्लैंड के किसी पत्रकार ने अश्विन से पूछा कि क्या आपको लगता है पिच अच्छी थी? इस पर अश्विन ने भी अपने अंदाज में जवाब देते हुए कहा कि अच्छी पिच कौन सी होती है? बल्लेबाजों को इसके ऊपर रन बनाने चाहिए थे। उन्हें अच्छी बल्लेबाजी करनी चाहिए थी। निश्चित रूप से इसको लेकर कोई सवाल नहीं है। अच्छी पिच की परिभाषा क्या है? अश्विन ने यहाँ तक कह दिया कि पिच वाले ड्रामे को अब यही खत्म कर देना चाहिए।

वहीं, पिच के बारे में बातें बंद करने की सलाह देने वाले रविचंद्रन अश्विन ने युवराज सिंह के उस ट्वीट के बारे में बात की जिसमें पिच के बारे में बात की गई थी। अश्विन ने कहा कि मुझे युवी पा के ट्वीट में कुछ भी गलत नहीं लगा। लोग वही खरीदते हैं, जो बेचा जाता है। अश्विन ने कहा कि मैं युवराज को अच्छी तरह जानता हूँ और उन्होंने कुछ गलत नहीं कहा है।

गौरतलब है कि जब से पिंक बॉल टेस्ट मैच में भारतीय टीम ने जीत दर्ज की है, तब से पिच को लेकर चारों तरफ से सवाल खड़े हुए हैं। इंग्लैंड कभी कई पूर्व क्रिकेटरों ने पिच को लेकर बयानबाजी की और इसे खराब पिच बताया। हालांकि प्रज्ञान ओझा जैसे कई गेंदबाजों ने जवाब में सीम पिचों का उदाहरण देते हुए कहा कि उस ग्रीन पिच या रन बनने वाली पिच के बारे में कोई क्यों नहीं बोलता?

Recent Posts