Railway Ticket: रेलवे ने यात्रियों का सफर काफी आसान कर दिया है. आरक्षण टिकट के साथ-साथ अनारक्षित टिकट भी मोबाइल ऐप पर आसानी से प्राप्त किया जा सकता है।

हालांकि, कई यात्रियों को इसकी जानकारी नहीं है और वे आज भी टिकट के लिए खिड़की पर कतार में खड़े रहते हैं। ऐसे में अब रेलवे ने स्टेशन पर यूटीएस ऐप से संबंधित स्टीकर लगाकर यात्रियों को ऑनलाइन टिकट के प्रति जागरूक करने का प्रयास किया है. ऐसे प्रयासों से खासकर छोटे रेलवे स्टेशनों पर यात्रियों को टिकट की कतारों से राहत मिलेगी.

मोबाइल से बनेगा टिकट

यात्री रेलवे के यूटीएस मोबाइल ऐप के जरिए ऑनलाइन लोकल टिकट की सुविधा का लाभ उठा सकते हैं। ऐप से अब आप घर बैठे या रेलवे प्लेटफॉर्म पर पहुंचकर भी जनरल टिकट या प्लेटफॉर्म टिकट बना सकते हैं। इसके लिए आपको यूटीएस ऐप डाउनलोड करना होगा. ऐप के जरिए एक पीएनआर पर अधिकतम चार टिकट बुक किए जा सकते हैं। टिकट चेकिंग के दौरान आप ऐप खोलकर बुकिंग हिस्ट्री में जाकर टीसी को अपना टिकट दिखा सकते हैं।

कतारों से राहत, खुले पैसों का झंझट खत्म

हर स्टेशन पर यात्रियों की भीड़ देखने को मिल रही है. ऐसे में सबसे पहले व्यक्ति को टिकट की चिंता सताती है. ऐसे में यूटीएस ऐप से परेशानी कम हो जाती है और यात्रा के लिए आसानी से टिकट बनाया जा सकता है। साथ ही, चूंकि भुगतान प्रक्रिया ऑनलाइन है, इसलिए खुले पैसे बदलने का कोई झंझट नहीं है। वहीं कई बार टिकट खिड़की पर लाइन में खड़े होकर पैसे न मिलने पर यात्री के लिए बड़ी समस्या बन जाती है।

अद्यतन करने से समस्या हल हो गई

ऐप को लेकर यात्रियों को आ रही एक और समस्या का भी समाधान हो गया है. इस ऐप के जरिए रेलवे लाइन से 20 मीटर दूर जाने पर ही टिकट बन जाता था. लेकिन अब यह दूरी सीमा हटा दी गई है.

Recent Posts