If Peepal plant is growing in the house then remove it, know,

बहुत सारे पेड़ पौधे ऐसे है जो हमारे लिए शुभ होते है जो हमें वास्‍तुशास्त्र (Vastu) में कई पेड़-पौधों (Plants) के बारे में बताया गया है। जिन्‍हें घर में लगाने से शुभ फल मिलता हैं। साथ ही पेड़ पौधे घर में लगाने से नकारात्मक ऊर्जा (Negative Energy) का संचार करती है।

दरअसल, कहा जाता है कि पेड़ के कण-कण में ईश्‍वर (God) का वास होता है। साथ ही कई अवसरों पर पेड़ की पूजा (Worship) की जाती है। इसलिए कहा जाता है कि आप पेड़- पौधों में रोजाना जल चढ़ाएं। लेकिन इन सबके बावजूद घर पर पीपल का पेड़ उगना अशुभ माना जाता है।

आपको बतादें कि पीपल का पेड़ हमें शीतलता प्रदान करता है। साथ ही ऑक्‍सीजन देने वाले पेड़ों में पीपल सबसे आगे है जो पूरे दिन में दो घंटे के लिए बहुत अधिक कार्बन डाईऑक्साइड भी छोड़ता है इसलिए ये पेड़ कभी भी हमें घर में नहीं लगाना चाहिए।

घर से कैसे हटाएं पीपल का पौधा

45 दिन तक पीपल के पौधे की पूजा

45 दिनों तक आप रोजाना पीपल की पेड़ की पूजा कर ले। आप लगातार पीपल की पेड़ का पौधा लगाए। उस पीपल के पौधे की पूजा करें और उस पर कच्‍चा दूध चढ़ाएं। इसके बाद पीपल के पौधे को जड़ सहित उखाड़ कर किसी दूसरे स्‍थान पर लगा दें।

पीपल के पेड़ की पूजा करके उसे कटवा सकते हैं

इस स्थिति में रविवार के दिन आप पीपल के पेड़ की पूजा करके उसे कटवा सकते हैं। पीपल का पेड़ न कटवाएं, इससे आपके पितरों को कष्ट होता है।

गमले में लगा कर किसी मंदिर में रखवा दें

अगर पीपल का छोटा पौधा है तो आप उसे एक गमले में लगा कर किसी मंदिर में रख दें। आप पीपल के पेड़ की पूजा करवा कर उसे कटवा सकते हैं।

व्रत भी रख सकते हैं

पुराणों में पीपल के पेड़ और पौधे को कटवाने से पहले ‘पीपल प्रदाषिणा व्रत’ होता है। दरअसल, पीपल के पेड़ में भगवान ब्रह्मा, विष्‍णु और महेश वास करते हैं।