Find out how a person's nature is by way of signature, know about your signature

हम जब छोटे होते है तभी से हमें साइन करना बेहद पसंद होता है। हर एक छोटा बच्चा चाहता है कि उससे कोई साइन कराएं और कहेंकि वाह क्या साइन है। वहीं एक साइन करने का दूसरा पहलू भी है जो सिग्‍नेचर से क‍िसी भी व्‍यक्ति के बारे में सबकुछ बता सकता है।

आप सोच रहे होगें ऐसा कैसे हो सकता है। लेकिन जो व्यक्ति स‍िग्‍नेचर करता है उसका साइन करने से उसका व्‍यवहार पता लग जाता है। वह क‍िस क्षेत्र में क‍ितनी तरक्‍की करेगा यह सबकुछ। तो आज हम आपको सब कुछ बताएंगें इसके माध्यम से ।

पहला अक्षरा वाली साइन

बतादें कि जो व्यक्ति अपने हस्ताक्षर की शुरुआत अपने नाम के पहले अक्षर से तो करते हैं लेकिन पूरा नाम ना लिखकर बाद में अपना सरनेम लिख देता है वह हृदय से सरल होते हैं। ऐसे लोगों से चालाकी कोसों दूर रहती है। ये समाज में भी मेलजोल से रहते हैं और सभी के साथ अच्छा व्यवहार रखने के कारण व्यवहार कुशल कहलाते हैं।

तोड़ मरोड़ वाली साइन
जो व्यक्ति छोटे हस्ताक्षर करते हैं। या फिर हस्‍ताक्षर को काफी तोड़-मरोड़ देते है। वो व्यक्ति को समझ पाना आसान नहीं होता। यानि क‍ि ऐसे लोगों के चेहरों पर चेहरे और मन में अलग-अलग बातें चलती रहती हैं।

गड़ा-गड़ाकर हस्ताक्षर

जो लोग काफी गड़ा-गड़ाकर साइन करते हैं और उनके साइन किए हुए अक्षर कागज के दूसरी ओर भी उभरे हुए द‍िखाई देते हैं। तो समझ लें ऐसे व्‍यक्ति काफी ऊर्जाशील होते हैं। इसके अलावा ये काफी जिद्दी भी होते हैं।

दो लाइन वाली साइन
जो लोग साइन करते समय नीचे दो लाईन खींचते हैं और फिर उन लाईनों के नीचे भी दो बिंदू लगा देते हैं। ऐसे व्‍यक्ति समाज में खूब ख्याति प्राप्‍त करते हैं। साथ ही बहुत ही मेहनत करते है और अपने बलबूते पर इतिहास में भी नाम दर्ज कराते हैं।

डैश डॉट वाली साइन
जो व्यक्ति अपने हस्ताक्षर के अंत में डैश और डॉट लगाता हैं वो स्वभाव से शर्मीले होने के साथ डरपोक भी होते हैं। वह जो काम शुरु करते हैं उसे खत्‍म जरूर करते हैं यानी क‍ि कोई भी कार्य अधूरा नहीं छोड़ते।