राफेल के बाद भारत ला आ रहा यूएस का अत्याधुनिक फाइटर जेट, टेंशन में चीन-पाकिस्तान

नई दिल्‍ली: देश की सीमाएं पर दुशमन की कढ़ी निगरानी और जबाव देने के लिए केन्द्र सरकार फाइटर जेट खरीदने का प्लान बना रहा है। जिससे चीन-पाकिस्तान में टेंशन होने वाली है। इससे पहले राफेल से दोने देशों सकते में है। भारत अब अमेरिका से ऐसा जो दुश्मनों को किसी भी वक्त पस्त करने का माद्दा रखता है। वो जंग का इतना बड़ा खिलाड़ी है कि अब तक उसका एक भी ऑपरेशन फेल नहीं हुआ है। उसका नाम सुनकर ही दुश्मन सेना के होश उड़ जाते हैं।

चीन और पाकिस्तान हिंदुस्तान को घेरने की कोशिशों में जुटे हैं। भारत को कभी भी दो मोर्चों पर जंग लड़नी पड़ सकती है। एलएसी पर जो मौजूदा हालात हैं, वो इस बात का साफ इशारा कर रहे हैं कि भारत और चीन के बीच कभी भी युद्ध का आरंभ हो सकता है। चीन और पाकिस्तान के नापाक चाल को देखते हुए भारतीय फौज और इंडियन एयरफोर्स लगातार खुद को मजबूत करने में जुटी है। वायुसेना में राफेल की तैनाती हो चुकी है, लेकिन अब भारत राफेल से भी ताकतवर फाइटर जेट खरीदने की प्लानिग कर रहा है।

त्याधुनिक F-15EX जंगी विमान
इंडियन एयरफोर्स अमेरिका से अत्याधुनिक F-15EX जंगी विमान खरीद सकता है। इस विमान को बनाने वाली अमेरिकन कंपनी बोइंग ने भारत को ये विमान देने का ऑफर किया है। अगर हिंदुस्तान इस ऑफर को स्वीकार करता है तो भारत को F-15 EX लड़ाकू विमान मिलते ही भारतीय वायुसेना की ताकत कई गुना बढ़ जाएगी। इस एक डील से ही चीन और पाकिस्तान की परेशानी बहुत बढ़ जाएगी।

हवा में डॉग फाइट के मामले में F-15 EX फाइटर जेट दुनिया का सबसे खतरनाक विमान है। डॉग फाइट के मामले में ये विमान अमेरिका के सबसे ताकतवर जेट F-35 से भी ज्यादा घातक है। ये अब तक अपना हर मिशन 100 परसेंट पूरा करके आया है। दुश्मन के विमान कभी भी इसे मार गिराने में कामयाब नहीं हुए।

F-15 EX लड़ाकू विमान की ताकत

  • F-15 EX 2.5 मैक यानि 3 हजार किमी. प्रति घंटे की स्पीड है।
  • 4 हजार 800 किमी. दूर मौजूद दुश्मन के विमान या उसके रडार को ध्वस्त कर सकता है।
  •  ये विमान अपने साथ 14 टन का हथियार लेकर जा सकता है और दुश्मन के खेमे में तबाही मचाकर वापस लौट आएगा है।
  • इसमें डबल इंजन लगा हुआ है, जोकि बहुत ही पावरफुल है।
  • दूसरे विमान की तुलना में ये ईंधन बहुत ही कम लेता है।
  • स्पीड और गोला बारूद ले जाने की क्षमता बहुत ज्यादा है,।
  • फ्यूल बहुत ही कम खपत करता है।
  • युद्ध के मैदान में ये बहुत ही कारगर और किफायती भी है।
  • 22 एयर-टू-एयर मिसाइल ले जा सकता है।
  • हाइपरसोनिक जैसी विध्वंसक मिसाइल को फायर कर सकता है।
  • इसका रडार बहुत ही पावरफुल है।
  • बहुत जल्द ही अपने टारगेट का पता लगा लेता है।
  • ये एक साथ मल्टिपल टारगेट को ट्रैस कर सकता है और उनपर सटीक निशाना लगा सकता है।

अमेरिका का सबसे ताकतवर फाइटर जेट है F-35, लेकिन F-15EX कई मामलों में उसपर भारी पड़ता है। यही वजह है कि अमेरिका ने भी 80 F-15EX जेट खरीदने का ऑर्डर दे दिया है 8 तो उसे मिल भी चुके हैं।

जाहिर है अगर अमेरिका का ये घातक विमान भारतीय वायुसेना के बेड़े में शामिल होता है, तो राफेल और F-15 EX मिलकर चीन और पाकिस्तान के झक्के छुड़ा देंगे।

Notifications    Ok No thanks