नई दिल्ली: बालों की खूबसूरती के लिए लोग बहुत कुछ कर लेते हैं लेकिन इस बात को सभी लोग जानते हैं कि शरीर की तरह ही बालों को भी डिटॉक्स की आवश्यकता होती है। हेल्दी बालों के लिए यह बहुत ही जरूरी हो जाता है। ज्यादातर कुछ महिलाएं बालों की नियमित रूप से शेयर करने के बावजूद भी हेयर फॉल और ड्राई हेयर या फिर बालों में रूसी जैसी समस्याओं का शिकार होती है। जानकारी के लिए आपको बता दें कि इन सभी समस्याओं को हेयर डिटॉक्स करके बड़ी आसानी से खत्म कर सकते हैं। कुछ नहीं जानते हैं किस तरह से बालों को डिटॉक्स किया जाए और बालों को घना बनाया जाए।

बालों में क्यों होने लगती है खुजली

बता दें कि हम लोग बालों को रोज धोया करते हैं उसके बाद भी स्कैल्प में गंदगी, पसीना और तेल के साथ-साथ चिपचिपा होने लग जाता है। जो बाद में बालों को ऑइली बना देता है। जिस कारण से ही बालों में रूसी और खुजली भी होने लगती है। इससे अगर बचना है तो बालों को डिटॉक्स करना बहुत ही जरूरी हो जाता है। यह इस टाइप की डीप क्लींजिंग करके बालों से जुड़ी हुई समस्याओं को कम कर देता है।

किसे कहते हैं हेयर डिटॉक्स

मीडिया रिपोर्ट की मानें तो बालों के स्कैल्प की डीप क्लींजिंग की प्रक्रिया को हेयर डिटॉक्स कहा जाता है। यह तरीका बालों में शैंपू और स्कैल्प स्क्रब की मदद से बालों की गहराई से उसके क्लीनिंग कर देना है। इसी के साथ-साथ इससे स्टाइलिंग टूल्स की वजह से बालों को होने वाले नुकसान से भी बचा जा सकता है। इसी के साथ ही यह तरीका बालों की स्कैल्प को सांस लेने में भी सहायता करता है जिसके बाद आपके बाल भी ग्रो होने लग जाते हैं।

Recent Posts