नई दिल्ली: केंद्र सरकार के द्वारा किसानों को आर्थिक सहायता देने के लिए प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना की शुरुआत हुई है। 10 करोड़ से भी ज्यादा किसान इस योजना का लुफ्त उठा रहे हैं। हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस योजना के लिए लाभार्थियों को 11वीं की सौगात दे दी है। मीडिया रिपोर्ट की मानें तो सितंबर माह के अंत तक 12वीं किस्त जारी कर दी जाएगी। अगर आप भी इस योजना के पात्र हैं और आपने अभी तक इस योजना का लुफ्त नहीं उठाया है तो आप भी रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं। खाना के रजिस्ट्रेशन में सरकार ने कुछ बदलाव कर दिए हैं।

इन दस्तावेज को कर दिया जरूरी

केंद्र सरकार ने प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना में हो रहे फर्जीवाड़े को रोकने के लिए अब राशन कार्ड को इसमें अनिवार्य किया हुआ है। अगर आप इस योजना के लिए पात्र हैं तो आपको रजिस्ट्रेशन के समय पर राशन कार्ड भी दिखाना होगा। अगर आप इस योजना में पहले से ही रजिस्टर्ड करवा चुके हैं तो आपको pmkisan.gov.in पर राशन कार्ड की कॉपी करवानी पड़ेगी पूर्ण ग्राम अगर आप ऐसा नहीं करते हैं तो आपकी 12वी किस्त तक नहीं आएगी।

नहीं होगी अब इसकी जरूरत

इसके साथ ही केंद्र सरकार ने एक और बड़ा बदलाव कर दिया है। अब किसानों को खतौनी, घोषणा पत्र, आधार कार्ड और बैंक की पासबुक की हार्ड कॉपी जमा करने की जरूरत नहीं होगी। आप इन दस्तावेज को अब पीडीएफ के माध्यम से पोर्टल पर डाल सकते हैं।

2000 की बजाय मिलने लगेंगे 4000

अगर आपने पीएम किसान योजना में अपना राशन कार्ड सबमिट करवा दिया है तो आपके खाते में अब 2 की जगह ₹4000 आने लग जाएंगे। ऐसा उन लोगों के साथ होने वाला है जिन्होंने हाल ही में पीएम किसान योजना में रजिस्टर करवाया है।

लेकिन किसान इस बात का ध्यान जरूर दें कि इस योजना के तहत 31 जुलाई तक E-KYC करवाना बहुत ही जरूरी है।

Recent Posts