नई दिल्लीः देश का सबसे बड़ा बैंक एसबीआई डिजिटल पेमेंट को लेकर काफी गंभीर है, जिसका मकसद ग्राहकों की परेशानी को दूर करना है। एसबीआई अब जल्द ही एक ऐसा एप लॉन्च करने जा रहा है, जिससे देश में व्यापारियों को ऑनलाइन पेमेंट का बढ़ावा मिलेगा।

इस एप का नाम योनो मर्चेंट है, जिसपर तेजी से काम चल रहा है। एसबीआई ने शनिवार को इसकी जानकारी दी। एक बयान जारी कर एसबीआई ने कहा कि योनो मर्चेंट एप देश में व्यापारियों के डिजिटलीकरण को बढ़ावा देने का काम करेगा।

एसबीआई ने बयान में कहा, एसबीआई की योजना देश के लाखों व्यापारियों को मोबाइल आधारित डिजिटल भुगतान स्वीकार करने में योग्य बनाने को लेकर कम लागत वाली संरचना बहाल करने की है। इसके तहत अगले दो साल में देश भर में खुदरा व उपक्रम खंडों में दो करोड़ संभावित उपभोक्ताओं को टार्गेट किया जायेगा।

एसबीआई ने कहा कि यह उत्तर-पूर्वी शहरों सहित टिअर-3 और टियर-4 शहरों में डिजिटल भुगतान की बुनियादी संरचना का विस्तार करने में मददगार साबित होगा। बैंक ने विज्ञप्ति में बताया कि यह लॉन्च आरबीआई द्वारा देश के दूरस्थ क्षेत्रों में प्वाइंट ऑफ सेल अवसंरचना (भौतिक और डिजिटल दोनों) की स्थापना को प्रोत्साहित करने के लिए पेमेंट्स इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट फंड बनाने की हाल की घोषणा के अनुरूप है। व्यापारी अब अपने एनएफसी सक्षम एंड्रॉइड स्मार्टफोन को एक सरल मोबाइल ऐप के माध्यम से भुगतान स्वीकृति उपकरणों में बदल पाएंगे।

एसबीआई के चेयरमैन दिनेश कुमार खरा ने लॉन्च पर बात करते हुए कहा, हमारी डिजिटल भुगतान सब्सिडियरी एसबीआई पेमेंट्स द्वारा योनो एसबीआई मर्चेंट ऐप लॉन्च करने की मुझे बहुत खुशी है। बैंक ने तीन साल पहले योनो प्लेटफॉर्म लॉन्च किया, योनो के 35.8 मिलियन पंजीकृत उपयोगकर्ता हैं। योनो मर्चेंट इस प्लेटफॉर्म का एक ब्रांड विस्तार है, जिसका उद्देश्य उपयोगकर्ता के अनुभव को बेहतर बनाना और हमारे व्यापारियों को सुविधा प्रदान करना है।

Recent Posts