नई दिल्ली: पब्लिक प्रोविडेंट फंड स्कीम की बात करें तो ये एक शानदार स्कीम मानी जा रही है जिसका फायदा मिलना शुरु हो जाता है। इसमें निवेश करने के बाद आपको काफी फायदा होने वाला है। इसे सरकार ने उन लोगों को ध्यान में रखने के बाद योजना शुरु किया है जो बिना नौकरी के साथ फायदा लेने की सोच रहे हैं। इसे निवेश की बात करें तो सुरक्षित विकल्प होता है क्योंकि इसमें निवेश करने के बाद सरकारी गारंटी हो जाती है।

इस स्कीम में बात करें तो आप सरकारी बैंक या पोस्ट ऑफिस में खाता खुलवाने के बाद फायदा ले सकते हैंष इस स्कीम में बच्चे के अलावा हर किसी को फायदा मिल जाता है। इस स्कीम में आपको 15 साल तक के लिए निवेश का विकल्प मिल रहा है। इसके अलावा आप चाहें तो 15 साल को एक्सटेंड करने के साथ इसका अतिरिक्त फायदा ले सकते हैं।

अगर आप भी स्कीम के तहत इस योजना का फायदा लेने की योजना बना रहे हैं तो हम आपको स्कीम के डिटेल्स और जरूरी डॉक्यूमेंट्स को लेकर जानकारी दे सकते हैं।

PPF स्कीम की अहम बात का रखना होगा ध्यान

  1. इस स्कीम के तहत आप 15 साल तक निवेश कर फायदा ले सकते हैं।
  2. इस स्कीम के तहत आपको 7.1 फीसदी रिटर्न का फायदा मिल रहा है।
  3. इस स्कीम के तहत आप हर वित्त वर्ष में न्यून्तम 500 रुपये और अधिकतर 1.5 लाख रुपये का फायदा ले सकते हैं।
  4. इस स्कीम में निवेश कर रहे हैं तो आपको इनकम टैक्स की धारा 80C के तहत 1.50 लाख की छूट का फायदा ले सकते हैं।
  5. पीपीएफ स्कीम की बात करें तो पोस्ट ऑफिस यह बैंक की बात करें तो 10 साल से अधिक तक किसी भी व्यक्ति का फायदा मिलने वाला है।

PPF खाता खुलवाने में चाहिए होते हैं ये दस्तावेज

  • फॉर्म A जिसके जरिए आप बैंक या पोस्ट ऑफिस में खाता खुलवा सकते हैं।
  • केवाईसी के लिए आधार कार्ड की पड़ती है जरुरत।
  • एड्रेस प्रूफ को लेकर वोटर ID या ड्राइविंग लाइसेंस देना होता है।
  • पैन कार्ड की होती है जरुरत।
  • पासपोर्ट साइज फोटो चाहिए होता है।
  • नॉमिनी के लिए ई फाॅर्म फिल करना होता है।

पीपीएफ अकाउंट की ये होती है प्रक्रिया

  • पीपीएफ अकाउंट को खोलने है तो आपको नजदीकी वाले बैंक या पोस्ट आफिस जाना होता है।
  • वहां जाकर फॉर्म ए फिल करना होता है।
  • इसके बाद आप केवाईसी (KYC) को लेकर आधार के साथ दूसरी डिटेल्स देना होता है।
  • इसके बाद आपका खाता बैंक या पोस्ट ऑफिस में खुलने के बाद फायदा ले सकते हैं।