नई दिल्ली: देश में अधिकतर लोग लम्बी यात्रा करना चाहते हैं को हमेशा भारतीय रेलवे से ही सफर करना पसंद करते हैं। यह सुरक्षित होने के अलावा आराम वाला भी माना जा रहा है। ट्रेन से सफर करने को लेकर कुछ चीजों पर ध्यान देना अहम होता है। आप इन नियमों से अनजान हो जाते हैं तो कई तरह की मुश्किल हो जाती है। इस नियम के बारे में विस्तार से बताने जा रहे हैं।

इंडियन रेलवे यात्रियों की सुविधा को ध्यान में रखने के बाद कई तरह से सुविधा देने को तैयार हो जाती हैं। इसमें ट्रेन से रात के सफर के साथ सामान लाने तक का सफर भी मौजूद है। वहीं ट्रेन का नियम भी कई तरह से शामिल है। आप भी रेलवे से सफर करने को लेकर तैयार हो जाते हैं तो जान लेना तो ये नियम किस तरह से होने जा रहे हैं।

रेलवे की तरफ से जानकारी के मुताबित देखा जाए कोई देखा जाए तो या​त्री कम से कम रात में 10 बजे से लेकर सुबह के 6 बजे तक सोने का नियम मौजूद होता है। इसके लिए नीचे की बर्थ वाला यात्री, मिडिल और अपर बर्थ के यात्री पर जाने के लिए नियम बनाया गया है। रात में सफर के समय तेज गाना सुनने के अलावा तेज बात करने पर भी पाबंदी जा रही है।

रात में 10 से देखा जाए तो इसको लेकर सुबह 6 बजे को लेकर अमूमन TTE भी टिकट चेक करने की जरुरत नहीं होती है। क्योंकि यह यात्रियों के सोने वाला समय तय किया जाता है। अगर आपको सफर आराम वाला बनाना है तो इसके लिए टीटीई टिकट भी नहीं चेक कर रहा है। हालांकि अगर आपकी यात्रा रात 10 बजे के साथ शुरु हो जाती है।

रेलवे के नियम को लेकर देखा जाए तो पैसेंजर्स ट्रेन के सफर के समय बात करें तो 40 से 70 किलोग्राम तक ही सामान लेकर यात्रा करना होता है। कोई अगर सामान लेता है, तो ज्यादा किराया देना रहता है।

इस ऑक्शन से राजस्थान की बात करें तो टीम सिर्फ 9 ही खिलाड़ियों को खरीदेगी। जिसमें से 4 विदेशी खिलाड़ियों के स्लॉट भी बाकी हो गया है।