नई दिल्ली: केंद्र सरकार वक्त वक्त पर देशवासियों के लिए बहुत सारी योजनाएं लेकर आया करती है। जिसकी सहायता से उनके भविष्य को उज्जवल बनाने का उद्देश्य रहता है। सरकार ने देश के नागरिकों के बुढ़ापे को सुरक्षित बनाने के लिए अटल पेंशन योजना की शुरुआत कर दी है। इस योजना के तहत अगर व्यक्ति कम उम्र में ही इसमें निवेश करना शुरू कर देता है तो वह अंतिम दिनों में खुशहाली के साथ में वक्त व्यतीत कर पाता है।

प्राइवेट नौकरी करने वाले लोग प्राप्त करेंगे लाभ

ज्यादातर प्राइवेट सेक्टर के अंदर काम करने वाले कर्मचारियों को आपने कई बार कहते हुए सुना जरूर होगा कि रिटायरमेंट के बाद में उनका जीवन कैसा होने वाला है यह उनको भी नहीं पता है। ऐसा इसीलिए क्योंकि सरकारी कर्मचारियों को रिटायरमेंट के बाद में पेंशन मिल जाती है जबकि प्राइवेट सेक्टर में ऐसा नहीं होता है। इसीलिए ऐसे ही लोगों के लिए केंद्र सरकार अटल पेंशन योजना लेकर सामने आई है जिसके तहत अगर प्राइवेट सेक्टर में काम करने वाले व्यक्ति छोटी-छोटी राशि भी हर महीने निवेश कर देते हैं तो वह ₹1000 से लेकर ₹5000 की मासिक पेंशन का लुफ्त उठा सकते हैं। प्राइवेट सेक्टर में काम करने वाले कर्मचारियों के बीच में अटल पेंशन योजना बहुत ही ज्यादा लोकप्रिय हो चुकी है।

केंद्र सरकार के द्वारा साल 2015 से 16 के बीच में अटल पेंशन योजना की शुरुआत हुई थी। योजना उन लोगों के लिए बहुत ही अच्छी सिद्ध होती है जो सरकार पेंशन का लाभ नहीं उठा पाते हैं। अटल पेंशन योजना का लाभ 18 वर्ष से लेकर 40 वर्ष तक का कोई भी भारतीय नागरिक को प्राप्त कर सकता है।

मंथली स्लैब में बदलाव होने की संभावना

इस योजना के तहत व्यक्ति को न्यूनतम ₹1000 और ज्यादा से ज्यादा ₹5000 की मासिक पेंशन मिल जाती है। जानकारी की मानें तो आने वाले समय में यह स्लैब 2000 मंथली से लेकर 4000, 6000, 8000 और ₹10000 मंथली होने की संभावना लगी हुई है।

अगर आप तो ₹5000 की मंथली पेंशन प्राप्त करने की सोच रहे हैं तो आपको 18 साल की उम्र से ही हर महीने ₹210 जमा करवाने होंगे। अगर कोई भी व्यक्ति 25 वर्ष की उम्र में इस योजना से जुड़ जाता है तो उसे हर महीने 376 रुपए वहां पर जमा करवाने की जरूरत है।

यह भी पढ़ें-Swiggy की कंपनी ने कर्मचारियों को दे दिया यह खास गिफ्ट, अब एक बार में कर सकते हैं 2 नौकरियां

Recent Posts