आज के समय में छोटे निवेशकों के लिए म्यूचुअल फंड एक बेहतरीन विकल्प है। कोरोना महामारी के बाद, म्यूचुअल फंड में निवेश करने वालों की संख्या में उल्लेखनीय वृद्धि हुई है। करोड़ों लोग आज एसआईपी के माध्यम से म्यूचुअल फंड में निवेश कर रहे हैं।

म्यूचुअल फंड योजनाओं में मिलने वाले आकर्षक रिटर्न निवेशकों को आकर्षित कर रहे हैं। लेकिन यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि सभी म्यूचुअल फंड योजनाएं समान रिटर्न नहीं देती हैं। कुछ योजनाओं ने नुकसान भी दिया है।

इसलिए, किसी भी म्यूचुअल फंड योजना में निवेश करने से पहले कुछ महत्वपूर्ण बातों को समझना आवश्यक है। ऐसा करके, आप सही फंड चुन सकते हैं और अपने निवेश पर बेहतर रिटर्न प्राप्त कर सकते हैं।

यहां 5 महत्वपूर्ण बातें बताई गई हैं जिन पर आपको म्यूचुअल फंड में निवेश करने से पहले ध्यान देना चाहिए:

1. योजना में जोखिम के बारे में जानें:

किसी भी म्यूचुअल फंड योजना में निवेश करने से पहले, यह समझना महत्वपूर्ण है कि यह फंड किस प्रकार का है। म्यूचुअल फंड योजनाएं लार्ज कैप, मिड कैप या स्मॉल कैप श्रेणी में हो सकती हैं। यह भी जान लें कि आपका पैसा किन शेयरों में लगाया जा रहा है। यदि पैसा मिड कैप और स्मॉल कैप में निवेश किया जाता है, तो जोखिम अधिक होता है। अपनी जोखिम लेने की क्षमता के अनुसार योजना का चयन करें।

2. योजना का पिछला प्रदर्शन देखें:

किसी भी म्यूचुअल फंड का पिछला प्रदर्शन इस बात की गारंटी नहीं है कि वह फंड भविष्य में अच्छा प्रदर्शन करेगा। लेकिन, ट्रैक रिकॉर्ड देखकर आप फंड की तुलना अन्य योजनाओं से कर सकते हैं। यदि कोई फंड लगातार वर्षों से बेंचमार्क को बेहतर प्रदर्शन कर रहा है, तो यह एक अच्छा विकल्प हो सकता है।

3. अनुभवी फंड मैनेजर चुनें:

किसी भी फंड का चयन करते समय, यह जानना महत्वपूर्ण है कि फंड का प्रबंधन कौन कर रहा है। निवेशक आमतौर पर उन फंडों में पैसा लगाते हैं जिनका प्रबंधन अनुभवी फंड मैनेजरों द्वारा किया जाता है। जिनके पास अस्थिर बाजार स्थितियों में निवेशकों के धन का प्रबंधन करने और उतार-चढ़ाव वाले बाजारों में भी अनुशासन बनाए रखने का ट्रैक रिकॉर्ड है। यह सक्रिय रूप से प्रबंधित फंडों के लिए विशेष रूप से महत्वपूर्ण है।

4. खर्च अनुपात और अन्य शुल्कों की तुलना करें:

अपनी पसंद के सेगमेंट जैसे मिडकैप, लार्जकैप, डेट या हाइब्रिड से 4-5 फंड चुनें और फिर फंड के खर्च अनुपात की तुलना करें। इसके अलावा, यदि आप फंड को भुनाते हैं तो फंड हाउस एकमुश्त बिक्री शुल्क के रूप में कितना कमीशन लेता है।

5. अपनी निवेश योजना बनाएं:

म्यूचुअल फंड में निवेश करने से पहले, अपनी निवेश योजना बनाना महत्वपूर्ण है। अपने वित्तीय लक्ष्यों को निर्धारित करें, जैसे कि सेवानिवृत्ति, शिक्षा या घर खरीदना। अपनी जोखिम लेने की क्षमता का आकलन करें और अपनी निवेश अवधि तय करें। इन कारकों के आधार पर, आप अपनी आवश्यकताओं के अनुरूप म्यूचुअल फंड योजनाओं का चयन कर सकते हैं।

Recent Posts

Ganesh Meena is a digital marketing expert and content...