नई दिल्लीः भारत की सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी मारुति सुजुकी की पहचान पूरी दुनिया में हैं। मारुति सुजुकी ने साल 2021 के पहले ही महीने के आखिर में एक बड़ी उपलब्धि हासिल कर ली है। कंपनी ने संचयी रूप से 20 लाख कारों के निर्यात का लक्ष्य पार कर लिया है।

गुजरात के मुद्रा बंदरगाह से दक्षिण अफ्रीका के लिए निर्यात की खेप को रवाना करते हुी कंपनी ने इस बड़े मुकाम को हासिल किया है। निर्यात की इस खेप में उसकी एस-प्रेसो, स्विफ्ट और विटारा ब्रेजा जैसी कारें थीं।

वहीं, मारुति सुजुकी इंडिया के एमडी और सीईओ केनिची आयूकावा ने कहा, ”भारत के वैश्विक ऑटोमोबाइल व्यवसाय के क्षेत्र में महत्वपूर्ण स्थान हासिल करने के काफी पहले से, पिछले 34 साल से, कंपनी वाहनों का निर्यात करती रही है। इस शुरुआत में ही वैश्विक बाजार से परिचय पाकर कंपनी को अपनी गुणवत्ता बढ़ाने और वैश्विक मानक स्तर को हासिल करने में मदद मिली है।

बता दें कि कंपनी मौजूदा समय में 100 से ज्यादा देशों में लगभग 150 संस्करणों वाली 14 तरह की कारों का निर्यात करती है। पिछले कुछ समय से मारुति सुजुकी की सबसे चर्चित गाड़ी जिम्नी के लॉन्च को लेकर एक बड़ा अपडेट सामने आया है। कंपनी ने पुष्टि की है कि वह जिम्नी एसयूवी के भारत में लॉन्च के लिए विचार कर रहे हैं।

हालांकि इससे पहले कंपनी वर्तमान में मार्केटिंग के विभिन्न पहलुओं का अध्ययन कर रही है। इस कार की इतनी ज्यादा डिमांड है कि कुछ देशों में तो इसका एक साल तक का वेटिंग पीरियड है।

Recent Posts