नई दिल्ली: अगर हम एक कार खरीदना चाहते हैं और उसे फाइनेंस पर खरीदना चाहते हैं क्योंकि फाइनेंस पर ली हुई कार के अनेक फायदे होते हैं जैसे कि अगर हमें थोड़े थोड़े पैसे करके कार लेनी है क्योंकि हमारे पास बजट एक साथ नहीं बन पाता है तो हमेशा फाइनेंस को चुने यह एक प्रकार का सही साधन है।

लोन लेने से पहले ग्राहक को अपनी फाइनेंशियल स्थिति के बारे में सोचना चाहिए और यह पता होना चाहिए कि लोन वापस करने में कोई दिक्कत न हो। आपको योजना बनानी चाहिए कि अपने बजट से EMI कैसे भरा जाए ताकि आप भुगतान के पीछे न पड़ें।  आज कल कई फाइनेंस कंपनियां कम ब्याज का लालच देकर कार लोन ऑफर करती हैं। ग्राहकों को अक्सर प्रक्रिया से जुड़े संभावित नुकसानों पर विचार किए बिना जल्दी करने के लिए लुभाया जाता है।

ऐसे में कुछ इस तरह की जानकारी बताने जा रहें जिससे आप लोन को ध्यान में रखते हुए ख्याल रख सकते है। तो चलिए इसके बारे में आप को बतातें है।

अपनी क्रेडिट हिस्ट्री चेक करें

कार लोन के लिए अप्लाई करने से पहले क्रेडिट स्कोर न जानना एक बड़ी गलती है।यदि क्रेडिट स्कोर कम है और खरीदारी करने की कोई जल्दी नहीं है, तो उपभोक्ता बेहतर ब्याज दर प्राप्त करने के लिए स्कोर में सुधार करने के लिए समय निकालने का निर्णय ले सकता है। एक उपभोक्ता क्रेडिट कार्ड स्टेटमेंट या ऑनलाइन अकाउंट पर अपना क्रेडिट स्कोर आसानी से मुफ्त में प्राप्त कर सकता है।

लंबे समय के लिए फाइनेंस न कराएं

ग्राहक के लिए लंबी अवधि के लोन का सिलेक्शन आकर्षक हो सकता है, क्योंकि इससे EMI कम हो जाती है, लेकिन इससे कुल ब्याज बढ़ जाता है। लंबी शर्तें आमतौर पर ज्यादा ब्याज दर के साथ आती हैंस, जिसे उपभोक्ता को लंबी अवधि के लिए चुकाना पड़ता है। इसके अलावा, लंबी अवधि के लोन का मतलब है कि कार का मूल्य उस समय तक कम हो जाता है। आमतौर पर 60 महीने को अधिकतम अवधि माना जाता है, जिस पर किसी को विचार करना चाहिए

प्री-अप्रूव्ड लोन प्राप्त करें

केवल कार डीलर पर लोन के लिए निर्भर रहने से कहीं और बेहतर विकल्प छूट सकते हैं। कई बैंकों, क्रेडिट एजेंसियों और ऑनलाइन कंपनियों से प्री-अप्रूव्ड लोन लेना हमेशा बेहतर होता है। यह कार खरीदने से पहले किया जाना चाहिए, क्योंकि इससे खरीदार को इस बात का बेहतर अंदाजा होगा कि उसे कितना लोन अप्रूव्ड हो सकता है। इस प्रक्रिया में आमतौर पर एक सॉफ्ट क्रेडिट पूछताछ की नीड होती है और यह क्रेडिट स्कोर पर इफैक्ट नहीं पड़ता है।

कपेंयर करें और चुनें

अगर आप केवल पेशकश किया गया पहला लोन लेते हैं, तो आप एक बेहतर सौदे से चूक सकते हैं। कई प्रकार के कर्जदाता द्वारा दी जा रही शर्तों की जांच और तुलना करना सबसे अच्छा है। कुछ कम ब्याज दरों या अवधि की लंबाई के लिए अन्य विकल्पों की पेशकश कर सकते हैं।

अगर ठीक से जांच किए बना लोन लेते हैं तो एक कार फाइनेंस कराना ग्राहक के लिए बाद में काफी टेंशन देने वाला काम हो सकता है, अक्सर कस्टमर ऐसी गलतियां करता है, जिससे लंबे समय में उसे बड़ी कीमत चुकानी पड़ सकती है।

Recent Posts