home page

सरकार का बड़ा फैसला, इस शहर में बंद होंगी पेट्रोल-डीजल वाली बाइक, जानिए कहीं आप तो नहीं शामिल

देश और दुनिया में इलेक्ट्रक वाहन तेजी से पॉपुलर हो रहे हैं। इसके पीछे की वजह कम खर्च में लोगों को आने-जाने का साधन मिल जाता है। वहीं, केंद्र सरकार ऐसे नियम, कायदे और कानून मार्केट में लेकर आ रही है, जो काफी फायदे की चीज है। इससे लोग ईवी की और जाए है। और अपने एनवायरमेंट के लिए जागरूक हो।
 | 
BIKE
 नई दिल्ली: देश और दुनिया में इलेक्ट्रक वाहन तेजी से पॉपुलर हो रहे हैं। इसके पीछे की वजह कम खर्च में लोगों को आने-जाने का साधन मिल जाता है। वहीं, केंद्र सरकार ऐसे नियम, कायदे और कानून मार्केट में लेकर आ रही है, जो काफी फायदे की चीज है। इससे लोग ईवी की और जाए है। और अपने एनवायरमेंट के लिए जागरूक हो। 

आपको बता दें कि कई राज्यो में स्थानीय स्तर पर इलेक्ट्रिक व्हीकल पॉलसी (Electric Vehicle Policy) को लागू किया गया है, जिसमें अलग-अलग प्लान को बनाया गया है। वही अगर आप चंडीगढ़ में रहते हैं तो आप के लिए अच्छी खबर है। चंडीगढ़ में  इलेक्ट्रिक व्हीकल पॉलसी (Electric Vehicle Policy) की अधिसूचना जारी कर दी गई है। इसे आप को बंपर फायदा होने वाला है। 

ये भी पढ़ें- 

चंडीगढ़ प्रशासन ने शहर में पोल्यूशन लेवल को कम करने के लिए इलेक्ट्रिक व्हीकल पॉलसी  की अधिसूचना जारी कर दी है। इस ईवी पॉलसी  पांच वर्षों के लिए लक्ष्य तय किया गया है। दो साल में पेट्रोल मोटरसाइकिल बंद हो जाएंगी। सिर्फ ई-बाइकों का ही  रजिस्ट्रेशन होगा। पांच वर्षों में पेट्रोल-डीजल की कारों को भी आधा करने की तैयारी है। नया ई-वाहन खरीदने पर लोगों को तीन हजार से लेकर दो लाख तक का इंसेंटिव भी मिलेगा।

पंजाब के राज्यपाल व चंडीगढ़ के प्रशासक बनवारी लाल पुरोहित की तरफ से नीति को मंजूरी देने के बाद प्रशासन ने अधिसूचना जारी कर दी है। वही इसमें इलेक्ट्रिक वाहन खरीदने वाले लोगों के लिए कई तरह के इंसेंटिव का प्रावधान किया गया है, जिसमें ई-साइकिल, ई-टू व्हीलर, ई-कार्ट, ई-ऑटो और ई-फोर व्हीलर शामिल हैं। 

- देखें कितना मिलेगा इंसेंटिव 

ई साइकिल- कुल कीमत का 25 फीसद या तीन हजार रुपये तक
दो पहिया वाहन- इंसेंटिव प्रति किलोवाट पांच हजार, अधिकतम सीमा 30 हजार
चार पहिया वाहन- प्रतिकिलोवाट 10 हजार रुपये, अधिकतम सीमा डेढ़ लाख
तीन पहिया वाहन- ई-रिक्शा, ई-कार्ट, ई-आटो को अधिकतम 30 हजार रुपये तक की छूट
चार पहिया कसमर्शियल वाहन इंसेंटिव प्रतिकिलोवाट पांच हजार, अधिकतर 20 हजार
आटो - इंसेंटिव प्रति किलोवाट पांच हजार, अधिकतर 30 हजार

वही आप को बता दें इसमें कुछ गाड़ियों की लिमिट लगाई गई है। जिसमें पहले आओ और पहले पाओ के आधार पर लाभ मिलेगा।