Sawan Somvar 2020 How to worship Mahadev on Sawan Monday

सावन आते ही हर तरफ खुशनुमा महौल हो जाता है। आपको बतादें कि इस साल सावन के सोमवार 6 जुलाई से पड़ रहे है। वहीं हिन्दू पंचांग के अनुसार श्रावण मास से ही व्रत और पर्वों की शुरुआत होती है। खासतौर से भगवान शिव है। मान्यता है कि सावन महीने में महादेव को खुश करके आशीर्वाद प्राप्त कर सकते हैं।

पंचांग के अनुसार- आपको बतादें कि सावन महीना पंचाग के अनुसार चैत्र माह से शुरु हो जाता है। वहीं पांचवें महीने में ही श्रावण मास आता है जबकि अंग्रेजी कैलेंडर की मानें तो, हर साल सावन का महीना जुलाई और अगस्त में पड़ता है।

जो भी इस दिन आराधना करके भगवान शिव का आशीर्वाद प्राप्त करता है। साथ ही हर महीने सभी ज्योतिर्लिंगों, शिवालयों और शिव मंदिरों में महादेव के भक्तों का तांता लगा रहता है, इसलिए इस माह में विशेषरूप से हर ज्योतिर्लिंग और शिवालय को बेहद सुंदर तरह से सजाया जाता है।

भगवान शिव की पूजा और व्रत विधि

सावन के महीने में सुबह जल्दी उठकर स्नान करें, और फिर स्वच्छ वस्त्र पहनें। इसके बाद घर के पूजा स्थान की अच्छी तरह साफ़-सफाई करें, और वहां गंगाजल का छिड़काव करें और शिवलिंग पर दूध चढ़ाए। फिर “ऊं नम: शिवाय” मंत्र का जप करते हुए, भगवान को सुपारी, पंच अमृत, नारियल, बेल पत्र, धतूरा, फल, फूल आदि अर्पित करेंष