कुम्भ राशि – कार्य स्थल पर सकारात्मक परिणाम मिलेगा। जीवन साथी का सहयोग कार्य को सहज पूर्ण करने में मदद करेगा। धार्मिक कार्य में रूचि बढेगी। आर्थिक स्थिति में बदलाव होगा जिससे रुके कार्यो में गति आएगी।

तिथि सप्तमी– 10.58 एएम तक तत्पश्चात अष्टमी
नक्षत्र कृतिका – रात 05.58 एएम (20 फरवरी ) तक तत्पश्चात रोहिणी
योग इंद्र- रात 04.33 एएम तक (20 फरवरी) तक, तत्पश्चात वैधृति
वार शुक्रवार
पक्ष शुक्ल
करण वणिज- सुबह 10.58 एएम, विष्टि – 12.16 एएम तक (20 फरवरी) तत्पश्चात बव
सूर्य राशि कुंभ राशि पर
चंद्र राशि रात 9.41 पीएम तक मेष राशि पर तत्पश्चात वृषभ राशि पर

शुभ मुहूर्त (Auspicious Timings)

अभिजित मुहूर्त दोपहर 12:12 पीएम से 12:58 पीएम तक
विजय मुहूर्त दोपहर 02.28 पीएम से 03.13 पीएम तक
निशिथ काल रात 12.09 पीएम से 01.00 एएम तक (20 फरवरी)
गोधूलि मुहूर्त शाम 06.03 पीएम से 06.27 पीएम तक
ब्रह्म मुहूर्त सुबह 05.14 एएम से 06.04 एएम तक (20 फरवरी)
अमृत काल रात 03:15 एएम से 05:04 एएम तक (20 फरवरी)
सर्वार्थ सिद्धि योग —-
रवि योग
—-
त्योहार/व्रत/दिवस/जयंती रथ सप्तमी, नर्मदा जयंती

अशुभ मुहूर्त (Inauspicious Timings)

राहुकाल पूर्वान्ह 11:10 एएम से 12:35 पीएम तक
यमगण्ड दोपहर 03:25 पीएम से 04:49 पीएम तक
गुलिक काल सुबह 08:21 एएम से 09:46 एएम तक
दुर्मुहूर्त काल सुबह 09:12 एएम से 09:57 एएम तक तत्पश्चात दोपहर 12:58 पीएम से 01:43 पीएम तक
वर्ज्य शाम 04:26 पीएम से 06:14 पीएम तक 
पंचक —-
गंडमूल —-
भद्रा सुबह 10:58 एएम से 12:16 एएम तक (20 फरवरी)

नोट – पंचांग का यह विवरण राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र नई दिल्ली के आधार पर है। अपने स्थान का सटीक मुहूर्त ज्ञात करने के लिए स्थानीय पंचांग का अवलोकन करें।

Recent Posts