Mithun rashi 16 April 2021: आज का मिथुन राशिफल, 16 अप्रैल राशिनुसार कैसा रहेगा आपका दिन, पढ़ें यहां

मिथुन राशिफल – राजकार्य से जुड़े लोगों को आज नई जिम्मेदारी मिल सकती है। कार्यस्थल पर माहौल सामान्य रहेगा। पारिवारिक समारोह में जाने के योग है। मौज मस्ती में समय व्यतीत होगा। संतान की पढ़ाई को ले कर चिन्तित रहेंगे।

आज दिनांक 16 अप्रैल 2021 तिथि, नक्षत्र, सूर्योदय, सूर्यास्त, शुभ समय कब से कब तक है, अशुभ समय कब है, राहु काल की जानकारियां, आज का पर्व त्यौहार अप्रैल १६, २०२१ पंचांग और शुभ मुहूर्त की विस्तृत जानकारियां।

शुक्रवार16 अप्रैल 2021 का पंचांग

तिथि चतुर्थी 06:05 PM तक उसके बाद पञ्चमी
नक्षत्र रोहिणी 11:40 PM तक उसके बाद मॄगशिरा
पक्ष शुक्ल पक्ष
माह चैत्र
सूर्योदय 05:35 AM
सूर्यास्त 06:21 PM
चंद्रोदय 08:09 AM
चन्द्रास्त 10:07 PM

Auspicious Timings : आज का शुभ समय जिसमे शुभ मुहूर्त किया जा सकता है। आज दिनांक शुक्रवार 16 अप्रैल 2021 का शुभ टाइम। अगर कोई शुभ कार्य करने जा रहे हैं तो अभिजीत समय में करें। उसके बाद अन्य में कर सकते हैं जब अभिजीत का समय नहीं हो तो।

अभिजीत मुहूर्त 11:32 AM से 12:23 PM
अमृत काल मुहूर्त 08:03 PM से 09:52 PM
विजय मुहूर्त 02:06 PM से 02:57 PM
गोधूलि मुहूर्त 06:08 PM से 06:32 PM
सायाह्न संध्या मुहूर्त 06:21 PM से 07:28 PM
निशिता मुहूर्त 11:35 PM से 12:20 AM, Apr 17
ब्रह्म मुहूर्त 04:04 AM, Apr 17 से 04:49 AM, Apr 17
प्रातः संध्या 04:26 AM, Apr 17 से 05:34 AM, Apr 17

Inauspicious Timings : आज का अशुभ समय जिसमे शुभ कार्य नहीं किया जा सकता है। आज दिनांक शुक्रवार 16 अप्रैल 2021 का अशुभ समय।

दुष्टमुहूर्त 08:08:23 से 08:59:27 तक, 12:23:40 से 13:14:43 तक
कालवेला / अर्द्धयाम 14:56:49 से 15:47:53 तक
गुलिक काल 07:10:57 से 08:46:41 तक
यमगण्ड 15:09:35 से 16:45:19 तक
भद्रा 05:35 AM से 06:05 PM
गण्ड मूल कोई नहीं है

विशेष मुहूर्त और योग : 

कुछ शुभ मुहूर्त होते हैं जैसे सर्वार्थसिद्धि, अमृतसिद्धि, गुरुपुष्यामृत और रविपुष्यामृत योग। जब किसी कार्य को करना हो और मुहूर्त उस समय नहीं हो तो इन विशेष योग या महूर्त में शुभ कार्य किया जाता है।

यदि सोमवार के दिन रोहिणी, मृगशिरा, पुष्य, अनुराधा तथा श्रवण नक्षत्र हो तो सर्वार्थसिद्धि योग का निर्माण होता है। शुभ मुहूर्तों में सर्वश्रेष्ठ मुहूर्त माना जाता है- गुरु-पुष्य योग। यदि गुरुवार को चन्द्रमा पुष्य नक्षत्र में हो तो इससे पूर्ण सिद्धिदायक योग बन जाता है। जब चतुर्दशी सोमवार को और पूर्णिमा या अमावस्या मंगलवार को हो तो सिद्धिदायक मुहूर्त होता है।

आज का शुभ योग जिसमे कोई भी मुहूर्त किया जा सकता है। ये योग बहुत ही शुभ होते है किसी भी शुभ कार्य को करने के लिए।

Shubh Muhurat – 16 April 2021

अभिजीत मुहूर्त 11:32 AM से 12:23 PM
सर्वार्थ सिद्धि योग कोई नहीं है
अमृत सिध्दि योग कोई नहीं है
रवि योग 05:35 AM से 11:40 PM
द्विपुष्कर योग कोई नहीं है
त्रिपुष्कर योग कोई नहीं है

आज का व्रत / पर्व त्यौहार अप्रैल १६, २०२१ हिंदू पंचांग और कैलेंडर के अनुसार

विनायक चतुर्थी, रोहिणी व्रत

Leave a comment
Enable Notifications    OK No thanks