Learn about Gupt Navratri, how to please Maa Lakshmi,

हिंदू धर्म के अनुसार हर दिन किसी ना किसी भगवान का होता है। वहीं हमारें यहां नवरात्र का भी खूब महत्व है। वहीं शास्‍त्रों में चार नवरात्रि (Navratri) के उल्लेख है। आपको बतादें कि ये चार नवरात्रि चैत्र नवरात्र और शारदीय नवरात्रि के अलावा साल में दो गुप्‍त नवरात्रि (Gupt Navratri) भी मनाएं जाते हैं।

आपको बतादें कि पहला गुप्‍त नवरात्रि माघ महीने के शुक्‍ल पक्ष में और दूसरा आषाढ़ माह के शुक्‍ल पक्ष में मनाया जाता है। वहीं इस बार आषाढ़ माह का गुप्‍त नवरात्रि 22 जून से 29 जून तक मनाया जा रहा है। दरअसल इस नवरात्र में मां शक्ति (Maa Shakti) की पूजा अर्चना की जाती है।

नवरात्र में माता को ये चढ़ाएं

कमल का फूल

आपको बतादें कि कमल का फूल माता लक्ष्मी को बहुत प्रिय है। गुप्‍त नवरात्रि के दौरान घर में कमल का फूल और माता की कोई तस्वीर लगाई जाए तो देवी लक्ष्मी की कृपा घर-परिवार पर बनी रहती है।

चांदी और सोने का सिक्का

गुप्‍त नवरात्रि में घर में चांदी और सोने का सिक्का लाना भी बहुत अच्छा माना जाता है। चांदी सोने के सिक्‍के को धन की देवी मां लक्ष्‍मी का प्रतीक भी माना जाता है।

कमल पर बैठीं मां लक्ष्मी की तस्वीर

गुप्‍त नवरात्रि के दिनों में देवी लक्ष्मी की ऐसी तस्वीर घर में लगाएं जिसमें माता लक्ष्मी कमल के फूल पर माता लक्ष्मी बैठी दिखाई दे रही हों। साथ ही उनके हाथों से धन की वर्षा हो रही हो।

मोर पंख

गुप्त नवरात्रि में मोर का पंख लाकर उसे मंदिर में स्थापित करें। क्योंकि इसमें भगवान का अंश माना जाता है।

सोलह श्रृंगार का सामान

गुप्त नवरात्रि के दौरान सोलह श्रृंगार का सामान घर लाना चाहिए। इस सामान को घर के मंदिर में स्थापित करना चाहिए। जिससे घर पर धन और वृद्धि की वृध्दि होती है।